Bilaspur Crime News: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे की आरटीएस कालोनी में रहने वाले लोको पायलट सोमवार की शाम ड्यूटी पर चले गए। इधर उनकी मां की तबीयत खराब हो गई। उनकी पत्नी और बच्चे भी देवरीडीह स्थित रिश्तेदार घर चले गए। इसका फायदा उठाते हुए चोरों ने सूने मकान का ताला तोड़कर सोने-चांदी के जेवर और 20 हजार स्र्पये पार कर दिए। लोको पायलट ने घटना की शिकायत तोरवा थाने में की है। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

आरटीएस कालोनी में रहने वाले डिलेश्वर राव चौता लोको पायलट हैं। वे सरकारी आवास में अपनी पत्नी राजेश्वरी और दो बच्चों के साथ रहते हैं। उनकी मां पद्मावती देवरीडीह में छोटे बेटे हरिप्रसाद के साथ रहती हैं। सोमवार को लोको पायलट ड्यूटी में रायगढ़ चले गए। रात आठ बजे पता चला कि उनका मां की तबीयत खराब है। इस पर उनकी पत्नी राजेश्वरी और बच्चे मकान में ताला लगाकर देवरीडीह चले गए। इसका फायदा उठाते हुए चोरों ने सूने मकान का ताला तोड़ दिया।

चोरों ने आलमारी का लाकर तोड़कर सोने की चेन, सोने की अंगूठी, सोने का झुमका और 20 हजार स्र्पये पार कर दिए। सुबह पड़ोसियों ने मकान का दरवाजा खुला देखकर राजेश्वरी को फोन किया। जानकारी मिलने पर महिला अपनी सास के साथ घर लौटी। उन्होंने घटना की जानकारी अपने पति को दी। ड्यूटी से लौटकर लोको पायलट ने घटना की शिकायत तोरवा थाने में की है। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

महिला लोको पायलट के मकान में चोरी

हेमूनगर में किराए के मकान में रहने वाली लोको पायलट के सूने मकान का ताला तोड़कर चोरों ने सोने का नेकलेस और झुमका पार कर दिया। हेमूनगर के शोभा विहार कालोनी में रहने वाली नीलम कुजूर लोको पायलट हैं। लोको पायलट 25 नवंबर को मकान में ताला लगाकर अपनी मां को लेने के लिए झारखंड के रांची जिला अंतर्गत लोवाडी गांव गई थीं। बुधवार की सुबह वे अपने घर लौटीं। इस दौरान मेन गेट का ताला टूटा था। ताला तोड़कर घुसे चोरों ने आलमारी से सोने का नेकलेस और झुमका पार कर दिया था। उनकी शिकायत पर पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close