बिलासपुर गुस्र्वार की रात गश्त पर निकले प्रशिक्षु आइपीएस और सीपत थाना प्रभारी की गाड़ी को टक्कर मारकर डीजल चोर भाग निकले। इनकी तलाश में जुटी पुलिस ने सड़क किनारे खड़े वाहनों से डीजल चोरी करने वाले गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही दो खरीदार को भी पुलिस ने पकड़ लिया है। आरोपित के कब्जे से पुलिस ने दो हजार लीटर डीजल और दो बोलेरो वाहन जब्त किया है।

सीपत थाना प्रभारी और प्रशिक्षु आइपीएस विकास कुमार गुस्र्वार की रात गश्त पर निकले थे। उनका वाहन शुक्रवार की सुबह चार बजे हिंडाडीह मोड़ के पास पहुंचा था। सड़क किनारे खड़े बोलेरो को देखकर उन्होंने अपना वाहन रोक दिया। पुलिस के वाहन को देखते ही बोलेरो के चालक ने उन्हें टक्कर मार दी। इसके बाद वे तेजी से सीपत की ओर भागने लगे। पुलिस की टीम ने उन्हें पकड़ने में सफल नहीं हो पाई। इसके बाद पूरी टीम संदिग्ध वाहन की तलाश में जुट गई। दो घंटे बाद पता चला कि संदिग्ध बोलेरो दर्राभाठा में है। इस पर प्रशिक्षु आइपीएस और उनकी टीम मौके पर पहुंची।

मौके से पुलिस ने ड्राइवर दिनेश सोनवानी को पकड़कर बोलेरो की तलाशी ली। वाहन के पीछे ड्रम में 35 लीटर डीजल रखा था। पूछताछ में पता चला कि दो बोलेरो में डीजल चोरों का गिरोह सक्रिय है। गिरोह में जांजगीर-चांपा जिले के बलौदा क्षेत्र अंतर्गत बगडबरी निवासी धनसिंह गोंड़(24), उमेंद राम रविदास(29), जनकराम रविदास(47) शामिल है। उन्होंने वाहन चलाने के लिए दिनेश सोनवानी और रमेश कुमार को अपने साथ रखा है। चोरी के डीजल को कुकदा में रहने वाले राजू पाटनवार के मकान में रखते हैं। पुलिस की टीम ने राजू के घर दबिश देकर दो हजार लीटर डीजल जब्त किया है। मामले में दो खरीदार राधेश्याम पटेल और सुंदरलाल पटेल को भी गिरफ्तार किया है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close