बिलासपुर। Bilaspur Crime News: मां महामाया मंदिर रतनपुर के बैंक खाते से पार 27 लाख स्र्पये वापस जमा कर दिए गए हैं। 26 फरवरी से 10 मार्च के बीच क्लोन चेक बनाकर राशि निकाली गई थी। इसकी शिकायत पर बैंक प्रबंधन ने स्र्पये वापस कराने की प्रक्रिया शुरू की थी। मां महामाया देवी मंदिर ट्रस्ट के मैनेजिंग ट्रस्टी सुनील सोंथालिया ने बताया कि ट्रस्ट का रतनपुर स्थित भारतीय स्टेट बैंक में खाता है। ट्रस्ट की ओर से नियमित रूप से बैंक खातों का आडिट कराया जाता है।

बीते मार्च में आडिट के दौरान पता चला 26 फरवरी से 10 मार्च के बीच ट्रस्ट के खाते 27 लाख 19 हजार 626 स्र्पये निकाले गए हैं। जांच में पता चला कि जिन चेक के माध्यम से राशि निकाली गई, वे सभी ट्रस्ट के पास सुरक्षित है। इन चेक को कभी जारी ही नहीं किया गया था। ट्रस्ट की ओर से इसकी जानकारी बैंक को दी गई। बैंक प्रबंधन ने इस पर क्लोन चेक के माध्यम से धोखाधड़ी किए जाने की पुष्टि की।

साथ ही स्र्पये ट्रस्ट के खाते में वापस करने का आश्वासन दिया। इसके बाद बैंक प्रबंधन की ओर से स्र्पये वापस करने की प्रक्रिया शुरू की गई। बैंक की ओर से अप्रैल में तीन लाख 15 हजार 500 स्र्पये वापस जमा किए गए। इसके बाद गुस्र्वार को 24 लाख चार हजार 626 स्र्पये मंदिर ट्रस्ट के खाते में जमा कर दिए गए हैं।

मुंबई के बैंक में लगाए गए थे चेक

आडिट के दौरान पता चला कि मुंबई के बैंक में क्लोन चेक लगाकर ट्रस्ट के खाते से स्र्पये निकाले गए थे। पहले दिन 26 फरवरी को क्लोन चेक से तीन लाख 15 हजार, दो मार्च को चार लाख 51 हजार, छह मार्च को अलग-अलग चेक के माध्यम से नौ लाख 58 हजार, 10 मार्च को दो चेक से नौ लाख 95 हजार 626 स्र्पये निकाले गए।

महाराष्ट्र पुलिस कर रही जांच

ट्रस्ट ने मामले की जानकारी 10 मार्च को बैंक प्रबंधन को दे दी थी। इसके बाद प्रबंधन की ओर से जांच शुरू कर दी गई। वहीं, ट्रस्ट ने 21 मार्च को इसकी शिकायत रतनपुर थाने में की। मामला मुंबई का होने के कारण पुलिस ने शून्य में मामला दर्ज कर लिया। इसके बाद केस डायरी महाराष्ट्र पुलिस मुख्यालय भेज दी गई।

पूरी रकम हो गई वापस

मां महामाया मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष आशीष सिंह ठाकुर ने कहा कि मां महामाया के खाते से 27 लाख स्र्पये क्लोन चेक के माध्यम से निकाल लिए गए थे। इसकी जानकारी बैंक प्रबंधन को दी गई थी। बैंक की ओर से कार्रवाई करते हुए गुस्र्वार को पूरी रकम बैंक खाते में वापस कर दी गई है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags