बिलासपुर। इंस्टाग्राम में अश्लील वीडियो अपलोड करने वाले युवक को कोनी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपित युवक के खिलाफ आइटी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

कोनी थाना प्रभारी सुखनंदन पटेल ने बताया कि एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो) की ओर से सूचना मिली कि गतौरी से एक अश्लील वीडियो इंस्टाग्राम में अपलोड किया गया है। एनसीआरबी से मिली जानकारी के आधार पर संदिग्ध मोबाइल नंबर की जांच की गई। इसमें पता चला कि मोबाइल नंबर अवि कश्यप(22) निवासी कछार के नाम पर रजिस्टर्ड है। इस पर जवानों ने उसके ठिकाने पर दबिश देकर हिरासत में ले लिया। थाने लाकर की गई पूछताछ में उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। आरोपित के मोबाइल को जब्त कर आइटी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

केंद्रीय गृह मंत्रायल करता है निगरानी

बच्चों से संबंधित अश्लील वीडियो इंटरनेट मीडिया के किसी भी प्लेटफार्म पर अपलोड करना जुर्म है। इसकी निगरानी केंद्रीय गृह मंत्रालय की एनसीआरबी टीम करती है। इस तरह के मामले सामने आने पर एनसीआरबी संबंधित राज्य की पुलिस को सूचना देती है। इसके आधार पर आरोपित की गिरफ्तारी और कानूनी प्रक्रिया की जाती है।

जेल से भी अपलोड हो चुका है अश्लील वीडियो

बिलासपुर स्थित केंद्रीय जेल से भी बच्चों से संबंधित अश्लील वीडियो अपलोड करने का मामला सामने आया है। केंद्रीय जेल में आजीवन सजा काट रहे बंदी को जेल के कंप्यूटर की देखरेख का जिम्मा सौंपा गया था। इसका फायदा उठाते हुए उसने इंटरनेट मीडिया के प्लेटफार्म पर अश्लील वीडियो अपलोड कर दिया। एनसीआरबी से मिली जानकारी के बाद सिविल लाइन पुलिस ने मामले की जांच की। तब मामले का फर्दाफाश हुआ। पुलिस ने जेल में बंद आरोपित के खिलाफ कार्रवाई की थी।

जिले में कई मामले आ चुके हैं सामने

बीते साल एनसीआरबी की टीम ने प्रदेश पुलिस मुख्यालय को इस संबंध में कई सूचनाएं भेजी थी। इसमें करीब एक दर्जन मामले जिले से संबंधित रहे। मामले में जिले की सरकंडा, सिविल लाइन, तारबाहर, मस्तूरी और पचपेड़ी पुलिस ने कार्रवाई की थी। इसके अलावा सीपत क्षेत्र से भी एक मामला सामने आया था।

Posted By: Manoj Kumar Tiwari

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close