बिलासपुर। Bilaspur Education News: राज्य सरकार एवं प्रथम एजुकेशन फाउंडेशन द्वारा कक्षा तीसरी से पांचवी तक के बच्चों में भाषा एवं गणित में उच्चत्तम दक्षता प्राप्त करने के लिए मुंगेली जिले के पथरिया विकासखंड के 14 संकुल केंद्रों में शिक्षकों को पांच दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया।

ब्लाक मुख्यालय में भरेवा और पथरिया के शिक्षकों को पांच दिवसीय प्रशिक्षण पूर्व माध्यमिक शाला पथरिया में दिया गया तो सिलतरा संकुल में समन्वयक महेंद्र खरे ने प्रशिक्षण दिया। इन 14 संकुलों में चल रहे प्रशिक्षण का निरीक्षण सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारी रामजी पाल, रविकांत राठौर, यतेंद्र भास्कर व विकासखंड स्रोत से बीआरसीसी सूर्यकांत उपाध्याय द्वारा किया गया।

बच्चों के स्तर अनुसार लगेगी कक्षा

नगर में प्रशिक्षण दे रहे संकुल समन्वयक मोहित खांडे एवं रोहित साहू ने बताया कि सरल कार्यक्रम के तहत बच्चों की भाषा व गणित के स्तर की जांच की जाएगी। इसके बाद स्तर के अनुसार कक्षा लगाकर उन्हें खेल खेल में पूर्व ज्ञान के आधार पर सिखाया जाएगा। प्रशिक्षण में तीली बंडल, गीत कहानी के सहायता से बच्चों के भाषा एवं गणित में दक्षता प्राप्त करने के लिए शिक्षकों को विभिन्न विधाओं को सिखाएंगे।

प्रशिक्षण में बताया गया कि सर्वे में ये बात सामने आया है कि प्रदेश में छह से 14 वर्ष के 14 लाख बच्चे एवं पाचवीं के बच्चे दूसरी कक्षा के स्तर की किताब नहीं पढ़ पाते न गणित के जोड़ घटाव को हल नहीं कर पाते यह बड़ी चुनौती है इसलिए इस सत्र गणित और भाषा में विशेष अध्ययन सामग्री और विधियों से अध्यापन कार्य कराया जाएगा।

स्मार्ट टीवी का होगा उपयोग

विकासखंड के सभी 14 संकुलों में आयोजित शिक्षकों के प्रशिक्षण के बारे में विकासखंड शिक्षा अधिकारी यूएल जायसवाल ने बताया कि आने वाले शिक्षा सत्र में छह से 14 वर्ष तक के बच्चों में गणित और भाषा विषय के समझ और ज्ञान को बढ़ाने पर विशेष फोकस किया जाएगा। यही कारण है कि सभी शिक्षकों को इसके लिए पहले से प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

साथ ही इस बार सूचना तकनीक के माध्यम से प्राथमिक शाला और पूर्व माध्यमिक शाला के विद्यार्थियों में गणित और भाषा की दक्षता विकास करने का कार्य होगा। इसके लिए प्रशिक्षण में स्मार्ट टीवी के उपयोग और संचालन के बारे में जानकारी दी गई है ।ज्ञात हो सभी शालाओं में एक स्मार्ट क्लास बनाया गया है। जो कोरोना काल के कारण उपयोग में नहीं लाया गया है लेकिन इस सत्र स्कूल खुलने पर ग्रामीण बच्चे भी स्मार्ट टीवी की मदद से बेहतर शिक्षा प्राप्त कर पाएंगे।

प्रशिक्षण में संकुल प्रभारी संतोष यादव, प्रशिक्षण में दोनों संकुलों के शिक्षक अशोक सोनवानी, सुभाषनी मनहर,चेतना साहू, खेमलता राजपूत,कृति टंडन तलेष सिंगरौल, परदेशी यादव,जगदीश टंडन,मंजूषा राठौड़, रंजीता भारती, भारती पाली, दीपक पोर्ते, अमृत खूंटे, मोहन सिंह नेताम आदि सभी तीसरी से पांचवी पढ़ाने वाले शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया गया।

Posted By: sandeep.yadav

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags