बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने दसवीं और बारहवीं का प्रवेश पत्र वेबसाइट पर जारी कर दिया है। विडंबना यह कि न्यायधानी के सभी चार हजार विद्यार्थी इसे डानउलोड नहीं कर पाएंगे। दरअसल बोर्ड ने प्रवेश पत्र के साथ आवेदकों की सूची और सेंटर सामग्री डाउनलोड का अधिकार सिर्फ स्कूलों को दिया है। स्कूलों को कार्ड डाउनलोड करने के लिए यूजर आइडी पासवर्ड और सिक्युरिटी पिन सबमिट कर लॉग इन करना होगा।

डीएवी पब्लिक स्कूल के प्राचार्य एके खन्ना ने कहा कि बिलासपुर में दसवीं के करीब दो हजार व बारहवीं के 15 सौ से अधिक परीक्षार्थियों के शामिल होने की उम्मीद है। बोर्ड ने अधिकृत वेबसाइट पर जो प्रवेश पत्र जारी किया है उसमें कई जरूरी दिशा निर्देश भी हैं। स्कूल प्रवेश पत्र डाउनलोड कर बच्चों को वितरित करेंगे। क्योंकि इसमें प्राचार्य का हस्ताक्षार अनिवार्य है। अगर प्रवेश पत्र में प्राचार्य के हस्ताक्षर नहीं हैं तो यह वैध नहीं माना जाएगा। परीक्षार्थी अगर गलती से परीक्षा के दिन इसे ले जाना भूल गए तो उन्हें परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षा से वंचित भी हो सकते हैं।

डाउनलोड करने की यह है प्रक्रिया

कृष्णा पब्लिक स्कूल की प्राचार्य रूंकी अंबस्ट का कहना है कि चार स्टेप अपनाकर प्रवेश पत्र डाउनलोड किया जा सकता है। सीबीएसई प्रवेश पत्र लिंक पर कक्षा 10वी 12वीं परीक्षा 2020 पर क्लिक करना होगा। अपना यूजर आइडी और पासवर्ड के साथ लॉग इन करें। सामने स्क्रीन पर संबंधित स्कूल व क्लास के प्रवेश पत्र डाउनलोड करने का विकल्प होगा। अब इन्हें डाउनलोड कर की प्रति ली जा सकती है। बशर्ते प्राचार्य का हस्ताक्षर करना होगा।

कक्षा दसवीं की परीक्षा

15 फरवरी वोकेशनल विषय

26 फरवरी को इंग्लिश

29 फरवरी को हिंदी

4 मार्च को विज्ञान

7 मार्च को संस्कृत

12 मार्च को गणित

18 मार्च को समाजिक विज्ञान और

20 मार्च आईटी व कम्प्यूटर

बारहवीं की परीक्षा

22 फरवरी से मनोविज्ञान

27 फरवरी को अंग्रेजी

2 मार्च को भौतिक विज्ञान

3 मार्च को इतिहास

5 मार्च को अकाउंटेंसी

6 मार्च को राजनीतिक विज्ञान

7 मार्च को रसायन विज्ञान

14 मार्च को जीव विज्ञान

17 मार्च को गणित

20 मार्च को हिंदी और

23 मार्च को भूगोल

30 मार्च को समाजशास्त्र

निजी स्कूलों की मनमानी

प्रवेश पत्र डाउनलोड करने का अधिकार स्कूलों को दिया है। जिसमें प्राचार्य का हस्ताक्षर जरूरी है। शहर में 18 सीबीएसई स्कूल संचालित है। जिसमें से निजी स्कूलों की संख्या सबसे अधिक है। अभिभावकों का कहना है कि अगर किसी छात्र को परेशान करना है तो स्कूल अब मनमानी करेंगे। फीस से लेकर कई तरह के बहाने बनाएंगे। इस पर रोक लगाने अभिभावक संघ ने बोर्ड को पत्र भेजा है।

सीबीएसई ने दसवीं और बारहवीं बोर्ड का प्रवेश पत्र जारी कर दिया है। स्कूल इसे यूजर आइडी व पासवर्ड के जरिए निकाल सकेंगे। बच्चों को कोई परेशानी नहीं होगी।

केके मिश्रा

प्राचार्य,दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे हायर सेकेंडरी स्कूल

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020