बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर की पहली कोरोना पॉजिटिव महिला ने आइसोलेट किए जाने के बाद बाहर निकलना नहीं छोड़ा था। इस दौरान वह खरीदारी करने कई बार बाजार गई। साथ ही एक शादी में भी शामिल हुई थी। महिला के संपर्क में आने वाले लोगों के कोरोना की चपेट में आने की आशंका बढ़ गई है। इसे जिला प्रशासन सकते में है। अब महिला से मिलने जुलने वाले सभी लोगों का पता लगाया जा रहा है।

सकरी के रामा लाइफ निवासी महिला अपने पति के साथ जनवरी माह में साऊदी अरब गई थी। दोनों 10 फरवरी को वापस बिलासपुर आए। उस समय महिला को स्वास्थ्य संबंधित कोई शिकायत नहीं थी। कुछ दिन बाद वह सर्दी-खांसी की चपेट में आ गई। उसने 15 फरवरी को स्वास्थ्य विभाग के टोल फ्री नंबर आरोग्य 104 से इसकी जानकारी दी। उसे सीएमएचओ कार्यालय बुलाकर जांच की गई। इस दौरान कोरोना के लक्षण मिलने पर महिला के साथ उसके पति को भी होम आइसोलेट कर दिया। साथ ही सैंपल जांच के लिए भेजा गया। दोनों को घर से बाहर न निकलने की सख्त हिदायत भी दी गई। इसे महिला ने गंभीरता से नहीं मिला। सऊदी अरब से लौटने के डेढ़ महीने के अंदर उस हालत गंभीर हो गई। इस पर 22 मार्च को उसने दोबारा स्वास्थ्य विभाग से संपर्क किया। जांच के बाद उसकी हालत गंभीर पाई गई। इसके बाद 23 मार्च को उसका और उसके पति का सैंपल लिया गया। एम्स रायपुर ने 25 मार्च को रिपोर्ट में महिला को कोरोना पॉजिटिव बताया है। अब जिला प्रशासन को पता चला है कि आइसोलेशन के दौरान महिला एक शादी समारोह में शामिल हुई थी। वहां दो दिनों तक उनका लोगों से मिलना हुआ। इसके अलावा महिला कई बार सकरी की दुकानों और गोल बाजार में भी खरीदारी करने गई थी। इससे अधिकारियों में हड़कंप मच गया है। महिला के संपर्क में आने से दूसरों के भी चपेट में आने की आशंका है। अब ऐसे लोगों का पता लगाया जा रहा है।

ड्राइवर, रसोइए और घरेलू सहायक भी क्वारंटाइन

इस बीच कलेक्टर ने पीड़ित महिला के यहां काम कर रहे ड्राइवर, रसोइए और घरेलू सहायक और वे जिन घरों के काम कर रहे थे उन्हें भी क्वारंटाइन करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही इन सभी के बारे में पता लगाने को कहा है।

वर्जन

महिला कोरोना पाजिटिव है। इसके बाद कालोनी को सील कर दिया गया है। साथ ही आसपास के लोगों को सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

डॉ प्रमोद महाजन

सीएमएचओ, बिलासपुर

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket