बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कोरोना वायरस के संक्रमण से जारी इस जंग में सभी अपनी - अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रहे हैं। पुलिस और जिला प्रशासन की सख्ती के कारण शहर में लॉक डाउन सफल हो रहा है। लेकिन जंगल से लगे कुछ गांवों में इसे गंभीरता से नहीं लिया जा रहा है। इसे देखते हुए वन विभाग के कर्मचारियों ने जागरूक करने का बीड़ा उठाया। गुरुवार को मरवाही पेंड्रारोड वनमंडल डीएफओ के निर्देश खोड़री वन परिक्षेत्र के बस्ती सर्किल में वनकर्मियों ने जागरूकता अभियान चलाया।

वनकर्मियों की इस पहल की खूब सराहना भी हो रही है। अभियान के दौरान सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए वनकर्मियों ने अलग- अलग बाइक में गांव पहुंचे। ग्रामीणों से मिलकर उन्हें बताया गया कि देशभर में 14 अप्रैल तक धारा 144 और लॉकडाउन है। लॉकडाउन के दौरान सभी को अपने घरों में ही रहना है। इससे संक्रमण नहीं फैलेगा। इस बीमारी से बचने के लिए चेहरे को मास्क या अन्य कपड़ों से ढंककर रखना है। रूमाल से रबर के जरिए मास्क बनाया जा सकता है। ग्रामीणों को इसकी विधि बताई गई। उनके इस अभियान का ही असर है कि ग्रामीणों ने वन अमले को भरोसा दिलाया गया कि अब वे घर से बाहर नहीं निकलेंगे और न एक- दूसरे के संपर्क में आएंगे। साथ ही बार-बार साबुन से हाथ धोने और हाथों से मुंह, नाक, आंख व कान का स्पर्श करने से भी बचेंगे। ग्रामीणों ने भी वन कर्मचारियों की बातों पर अमल करने का भरोसा दिलाया।

इन गांवों में चला अभियान

बस्ती सर्किल अंतर्गत ग्राम पंचायत पूटा, लमना, बगरा, बस्ती, आमगांव, टीकरखुर्द, कोटमीखुर्द, पीपरबहरा में अभियान चलाया गया। इस दौरान गांव के सरपंच व सचिव वनकर्मियों के साथ जागरूक करते नजर आए।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket