बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कोरोना वायरस की इस जंग में रेलवे ने भी अनोखा कदम उठाया है। बिलासपुर स्थित कोचिंग डिपो में 24 कोच की एक ट्रेन को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील किया जा रहा है। इसके बनते ही रैक को उस स्थान पर खड़ी की जाएगी जहां बिजली व पानी दोनों का पुख्ता इंतजाम है। रेलवे ने इसके लिए यार्ड को चिंहित किया है।

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए भारतीय रेलवे ने खाली पड़ी ट्रेन की बोगियों को आइसोलेशन कोच बनाने का आदेश है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन को भी फरमान आया है। हालांकि शहर में मरीजों की संख्या कम है। लेकिन जिस तरह के हालात हैं उसे देखते हुए पहले से पुख्ता इंतजाम करने के लिए यह जरूरी है। आने वाले समय में ज्यादा आइसोलेशन वार्ड की जरूरत पड़ सकती है। ऐसे में रेलवे ने अपने खाली पड़ी ट्रेन की बोगियों को आइसोलेशन कोच बनाकर वार्ड की कम दूर करेगी। आदेश के बाद कोचिंग डिपो में 24 नॉन एसी कोच की एक रैक को वार्ड में तब्दील करने का काम प्रारंभ हो गया। जानकारी के अनुसार हर कोच में आखिरी पार्टिशन से दरवाजे को हटा दिया जाएगा। नॉन एसी कोच में ऊपर की तीसरी सीट यानी अपर बर्थ पर चढ़ने के लिए लगाई गई सीढ़ियों को भी हटाया जा रहा है। हर केबिन में दो बॉटल होल्डर भी लगाए जाएंगे ताकि मेडिकल उपकरणों को आसान से रखा जा सके। बोगियों के चार्जिंग स्लॉट्स को भी सही किया जा रहा है। इसके अलावा हर केबिन में प्लास्टिक पर्दे लगाने की तैयारी है। बोगियों में डॉक्टर, नर्स और पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए अलग केबिन बनाए जा रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना