----------------

हमारे योद्धा प्रवीण शुक्ला

---------------

0 जरूरतमंदों को घर जाकर सामग्री उपलब्ध कराने बनाई अलग टीम

बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

जोन नंबर तीन के कमिश्नर प्रवीण शुक्ला ने शहर के दो प्रमुख सब्जी बाजार को व्यवस्थित करके नया उदाहरण पेश किया है। बृहस्पति बाजार और गणेश चौक सब्जी बाजार बाकी लोगों के लिए उदाहरण है। इधर कोरोना प्रतिबंध के कारण घरों में कैद भूखे परिवारों को सूचना मिलते ही तत्काल खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने के लिए इन्होंने एक नई टीम तैयार कर ली है। जो सुबह से लेकर देर रात तक जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध कराने के लिए सक्रिय रहती है। इस संकटकाल में जोन कमिश्नर के मैनेजमेंट ने मिसाल कायम कर दी है।

कोरोना संक्रमण के खतरे से जूझने वालों में नगर निगम के सबसे पहला मैदानी अधिकारी जोन कमिश्नर हैं जो खुद अपनी टीम के साथ मौके पर मौजूद रहकर व्यवस्था बनाने का काम कर रहे हैं। इस समय जब कोरोना से बचाव के लिए दवा के बजाय पब्लिक मैनेजमेंट पर ज्यादा फोकस किया जा रहा है ऐसे समय में निगम के जोन कमिश्नरों की भूमिका बढ़ गई है। क्योंकि इन्हीं के जिम्मे है कि लोग अपनी जरूरत के सामान भी खरीद सकें और शारीरिक दूरी का भी पालन होता रहे। इन दो विपरीत चीजों में जबरदस्त सामंजस्य जोन क्रमांक तीन में देखा जा सकता है। जोन कमिश्नर प्रवीण शुक्ला ने सबसे पहले उन जगहों को चिन्हांकित किया जहां ज्यादा भीड़ लग रही है। इसमें सब्जी बाजार प्रमुख था। बृहस्पति बाजार सब्जी बाजार के सामने खुद छह बजे से खड़े रहकर उन्होंने ऐसी व्यवस्था तैयार कर दी कि लोग बिना किसी परेशानी के सामान भी खरीद रहे हैं और शारीरिक दूरी का भी पालन हो रहा है। बेरिकेडिंग करने से लेकर लोगों की भीड़ बाजार में एक साथ न पहुंच जाए इसका भी यहां पूरा ध्यान रखा जा रहा है। इसी तरह गणेश चौक वाले बाजार को भी उन्होंने मुंगेली नाका चौक के ग्रीन गार्डन में शिफ्ट करा दिया है। जहां लोग बगैर परेशानी के खरीदारी कर सकते हैं। इन दो बाजारों को व्यवस्थित करने के अलावा जो टीम ने जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने में मिसाल कायम की है। सुबह से देर रात तक एक विशेष टीम बाइक और छोटी गाड़ियों में खाद्य सामग्री लोगों के घरों में पहुंचा रही है। इस बात का पूरा ध्यान रखा जा रहा है कि जरूरतमंदों को कोई दिक्कत न हो। इसी तरह फुटपाथ में रहने वालों को भी पका भोजन मिलना सुनिश्चित हो सके। इसके लिए भी इस जोन की टीम लगातार काम कर रही है। संक्रमण से खतरा होने के बावजूद जोन कमिश्नर शुक्ला और उनकी टीम ने फील्ड मे निकलकर व्यवस्था बनाने से लेकर लोगों को प्रेरित करने कई अभियान भी छेड़ा है। इसी का नतीजा है कि इस जोन में प्रतिबंध तोड़ने की घटनाएं सबसे कम हुई हैं।

वर्जन

उच्च अधिकारियों के निर्देश हो या स्थानीय स्तर पर व्यवस्था बनाने का मामला जोन स्तर का काम बहुत ही महत्वपूर्ण है। यही समय है सभी को अपनी पूरी क्षमता के साथ काम करने की जरूरत है। अधिकारी अपेक्षाओं के अनुसार काम कर रहे हैं।

प्रभाकर पांडेय

आयुक्त

वर्जन

कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सबसे जरूरी है कि शारीरिक दूरी का पालन। इसके लिए सबसे पहले उन जगहों को चिन्हांकित किया जहां भीड़ लगने की सबसे ज्यादा आशंका थी। बाजार आदि को व्यवस्थित करके भीड़ लगने की आशंका कम की गई। इसके अलावा जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाने की अलग से व्यवस्था की गई। सर्वाधिक संदिग्ध जगह पर दवा का छिड़काव, सफाई की विशेष प्लानिंग आदि किए गए हैं। आगे भी काम को निरंतर बेहतर किया जा रहा है।

प्रवीण शुक्ला

जोन कमिश्नर

---------------

9 अप्रैल अमित-2

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस