बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना राजीव किसान न्याय योजना का गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए शुभारंभ किया। वीसी के दौरान प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में कांग्रेस के विधायक व जनप्रतिनिधियों ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया। योजना के शुभारंभ के बाद सोनिया व राहुल ने जिलेवार कांगे्रसी नेताओं से मुखातिब हुए । जैसे ही बिलासपुर के जनप्रतिनिधि व किसान स्क्रीन पर नजर आए दिल्ली से राहुल गांधी ने अपने चिरपरिचित अंदाज में हाथ हिलाया और नमस्कार बिलासपुर जैसे शब्दों से अभिवादन किया। जवाब में कांग्रेसी नेता कुर्सी से उठकर हाथ जोड़कर उनका सम्मान किया।

राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना की शुरुआत से पहले कलेक्टोरेट परिसर स्थित एनआइसी केंद्र में वीडिया कांफ्रेंसिंग की व्यवस्था की गई थी। इसमें कमिश्नर,कलेक्टर व आला अधिकारियों के अलावा महापौर रामशरण यादव,जिला पंचायत के अध्यक्ष अरुण सिंह चौहान,नगर विधायक शैलेष पांडेय व तखतपुर की विधायक रश्मि सिंह मौजूद थे। इसमें जिलेवार लोगों से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया व राहुल गांधी को चर्चा करनी थी। कार्यक्रम के शुभारंभ के बाद दोनों नेताओं ने छत्तीसगढ़ के जिला मुख्यालयों में स्क्रीन के सामने बैठे कांग्रेस के आला नेताओं व अधिकारियों से एक-एक कर चर्चा की। जैसे ही बिलासपुर जिले का नंबर आया और स्क्रीन पर जैसे ही स्थानीय नेता नजर आए तो राहुल ने हाल हिलाकर नमस्कार बिलासपुर शब्द से सबका संबोधन किया। राहुल ने जैसे ही बिलासपुर को नमस्कार किया वीसी में बैठे कांग्रेसी नेता अपनी कुूर्सी से उठे ओर हाथ जोड़कर उनका अभिवादन किया।

जिले के एक लाख से अधिक किसानों को मिलेगा लाभ

इस योजना के शुरुआत होने से जिले के एक लाख से अधिक धान उत्पादक किसानों को फायदा मिलेगा । जिनके खाते में 85 करोड़ 66 लाख 82 हजार रुपये प्रोत्साहन राशि के रूप में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के जरिए जमा कराई जाएगी । जिले के किसानों को राजीव गांधी न्याय योजना के अंतर्गत 326 करोड़ 35 लाख 50 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि कुल चार किश्तों में प्रदान की जाएगी जिसमें से प्रथम किश्त के रूप में कुल राशि का 26.25 प्रतिशत याने 85 करोड़ 66 लाख 82 हजार रुपये उनके खाते में जमा कराई जाएगी ।

47 लाख सात हजार क्विंटल धान की हुई थी खरीदी

जिले में एक लाख एक हजार 490 किसानों से समर्थन मूल्य पर 47 लाख 7 हजार क्विंटल धान खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में किया गया था। इस खरीद पर किसानों के खाते में 856 करोड़ 50 लाख रुपये से अधिक राशि का भुगतान किया गया था। बीते वर्ष के मुकाबले इस वर्ष 6.49 प्रतिशत अधिक खरीदी की गई थी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना