बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र के सांसद अरुण साव ने कहा कि बिलासपुरवासियों को हवाई सुविधा का लाभ मिले इसके लिए शपथ ग्रहण के बाद से ही वे लगातार प्रयास कर रहे हैं। उनकी कोशिश अब रंग लाते दिखाई दे रही है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने फोर सी कैटेगरी के लिए स्वीकृति दे दी है। गंभीरता के साथ ही उनकी तरफ से ईमानदारी के साथ कोशिश की जा रही है। जाहिर है सफलता भी मिलेगी।

सांसद साव ने कहा कि यह पहली बार हो रहा है जब निर्वाचित सांसदों का एक वर्ष का कार्यकाल बेहद चुनौती भरा रहा। एक वर्ष के भीतर दो-दो चुनाव में अपनी क्षमता का प्रदर्शन भी करना पड़ा। पहले अपने चुनाव में सफल होने के बाद विधानसभा चुनाव और फिर उसके बाद नगरीय निकाय का चुनाव। जाहिर है चुनावी वर्ष में संसदीय क्षेत्र में कामकाज करना और लोगों की भावनाओं और अपेक्षाओं पर खरा उतरना भी किसी चुनौती से कम नहीं। वाकई यह बड़ी चुनौती थी। जिसे पार पाना बेहद कठिन। उनका यह भी कहना है कि चुनौतियों को पार पाना और एक लक्ष्य की तरफ बढ़ना ही उनका प्रमुख उद्देश्य था। इसमें वे काफी हद तक सफल रहे। उन्होंने कहा कि चुनौतीपूर्ण माहौल में काम करना और लोगों की अपेक्षा पर खरा उतरने में जो संतुष्टि मिलती है उसका अपना अलग मजा है। सांसद निर्वाचित होने और लोकसभा में शपथ ग्रहण में शामिल होने के बाद से ही उन्होंने मन ही मन संकल्प लिया था कि सबसे पहले वे बिलासपुर से हवाई सेवा की शुरुआत के लिए काम करेंगे। लोकसभा सत्र के शुरुआती दिनों से ही उनकी कोशिश यही रही। लोकसभा में सत्र के दौरान उन्होंने लगातार सवाल उठाए। विभागीय मंत्री से मिलकर चर्चा की। विभागीय अधिकारियों और मंत्री के बीच सामंजस्य का काम किया। इसका नतीजा भी आया। चकरभाठा एयरोड्रम से हवाई उड़ाने के लिए शुरुआत में थ्री सी कैटेगरी के उड़ान के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने लाइसेंस जारी किया था। विभागीय मंत्री से चर्चा के बाद इसे अपग्रेड करते हुए फोर सी कैटेगरी के लाइसेंस के लिए सहमति दे दी है। फोर सी कैटेगरी के मापदंडों के अनुरूप एयरोड्रम का विकास कार्य किया जा रहा है। कार्य पूरा होने के बाद डीजीसीए(डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन) की टीम निरीक्षण के लिए आएगी। उनकी सहमति के बाद आगे की प्रक्रिया जल्द पूरी की जाएगी। कोरोना के संक्रमण से मुक्त होने और लॉकडाउन खत्म होने के बाद कार्य की गति भी बढ़ेगी।

दो कार्यों पर रहा उनका फोकस

सांसद साव ने बताया कि लोकसभा का सत्र जब प्रारंभ हुआ तब से ही उन्होंने दो कार्यों पर फोकस किया था। चकरभाठा से हवाई सुविधा की शुरुआत और मुंगेली कवर्धा रेलवे लाइन का कार्य प्रारंभ कराना। अब तक वे दर्जनों बार लोकसभा में दोनों ही मुद्दों को प्रमुखता के साथ उठा चूके हैं। रेलवे लाइन के लिए भूमि अधिग्रहण सहित अन्य कार्यों की शुरुआत भी हो चुकी है।

अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे केंद्र सरकार की योजनाएं

भविष्य की योजनाओं पर चर्चा करते हुए कहा कि उनकी पूरी कोशिश रहेगी कि संसदीय क्षेत्र के एक-एक गांव में एक-एक हितग्राहियों के द्वार केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाएं पहुंचे। इसके लिए वे लगातार प्रयास करेंगे। अभियान भी चलाएंगे। गांव-गांव में चौपाल लगाएंगे। लोगों की समस्याएं सुनेंगे और योजनाओं का लाभ दिलाने कोशिश करेंगे।

ये है एक वर्ष के कार्यों का हिसाब

संसदीय क्षेत्र के विभिन्न ग्रामों में 225 करोड़ रुपये के प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का क्रियान्वयन ।

सांसद निधि के जरिए ग्रामीण क्षेत्रों में भवन सहित अन्य विकास के कार्य ।

नेशनल हाईव के विकास के लिए प्रयास। मुंगेली सहित अन्य नेशनल हाईवे के निर्माण को केंद्र सरकार ने अपनी स्वीकृति भी दे दी है।

मुंगेली जिला मुख्यालय में खेल सुविधाओं का विस्तार।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना