बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ब्रजराजनगर से झारसुगुड़ा तक 12 किमी तीसरी रेल लाइन बिछाने का काम अंतिम चरण पर है। इसके पूरा होते ही चांपा से झारसुगुड़ा के बीच 151 किमी तक तीसरी लाइन हो जाएगी। 1700 करोड़ की इस परियोजना को रेलवे ने चार साल के भीतर पूरा किया है। यह रेलवे की बड़ी उपलब्धि है।

बिलासपुर से चांपा तक पहले से तीसरी लाइन है। इसके बाद ही चांपा- झारसुगुड़ा की योजना तैयार की गई। ब्रजराजनगर से झारसुगुड़ा के बीच का काम बाकी है। इस लाइन के बनते ही रेलवे संरक्षा आयुक्त को निरीक्षण के लिए पत्र भेजा जाएगा। किसी भी नई लाइन में ट्रेनों का परिचालन तब तक नहीं किया जा सकता है जब तक आयुक्त हरी झंडी नहीं दे देते। तीसरी लाइन बिछते ही इस सेक्शन में भी ट्रेनों की रफ्तार बढ़ेगी। आउटर पर बेवजह ट्रेनों को नहीं रोकना पड़ेगा।

18 किलोमीटर चौथी लाइन का काम पूरा

बिलासपुर से झारसुगुड़ा तक चौथी लाइन भी बिछाने की परियोजना है। इस पर काम प्रारंभ हो गया है। पहले चरण में दो सेक्शन चांपा से सारगांव और ब्रजराजनगर से बेलपहाड़ नौ- नौ किमी तक चौथी लाइन बिछाई जा चुकी है। अब दूसरे सेक्शन में काम शुरू करने की तैयारी है।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की महत्वाकांक्षी परियोजना चांपा- झारसुगुड़ा तीसरी लाइन का कार्य अंतिम चरण में है। यात्री सुविधा और माल लदान के क्षेत्र में इससे गति आएगी। इस सेक्शन के पूरा होते ही राजनांदगांव से झारसुगुड़ा तक तीसरी लाइन हो जाएगी।

साकेत रंजन

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस