बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे में यूनियन चुनाव डेढ़ साल से लटका हुआ है। अलग-अलग कारणों से तारीख स्थगित होती रही है। अब रेलवे बोर्ड के आदेश के बाद एक बार फिर से चुनाव को लेकर सरगर्मी तेज हो गई है। बोर्ड ने अन्य जोन समेत दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे केप्रधान मुख्य कार्मिक अधिकारी को मतदाताओं की सूची तैयार करने का फरमान जारी किया है। पांच नवंबर को अंतिम सूची जारी कर दी जाएगी।

पहली सूची तीन नवंबर को जारी होगी। चार नवंबर को दावा-आपत्ति की प्रक्रिया होगी। इसके बाद अंतिम सूची का प्रकाशन होगा। यह दूसरी बार है जब सूची को लेकर आदेश दिया गया है। फरमान में कोरोना वायरस का हवाला देकर विलंब होने की जानकारी दी गई है। साथ ही यह भी कहा गया कि अब पुरानी सूची किसी काम की नहीं है। प्रत्येक जोन में नए कर्मचारी मतदाता आ गए हैं। सूची में 27 अक्टूबर तक नौकरी में आने वाले कर्मचारियों को मतदान करने का अधिकार होगा। इस आदेश से रेलवे के सभी यूनियन के पदाधिकारियों के बीच हलचल बढ़ गई है। चुनाव कोरोना के दिशा-निर्देश के अनुसार होगा। निर्देश में यह स्पष्ट है कि ग्रुप सी व डी के अलावा मतदान के लिए कौन-कौन अधिकृत होंगे। मतदान स्थल पहुंचकर वोटिंग नहीं कर पाने वाले मतदाताओं के लिए उनके पदस्थ स्थानों पर मतदान की व्यवस्था की जाएगी।

दिसंबर में मतदान की उम्मीद

उम्मीद जताई जा रही है कि दिसंबर के पहले सप्ताह में चुनाव हो सकता है। नवंबर में तारीख भी जारी होने की संभावना है। इसे देखते हुए सभी कर्मचारी मतदाताओं को विश्वास में लेकर पक्ष में मतदान कराने की मशक्कत भी शुरू हो गई है।

रेलवे में मान्यता को लेकर यूनियन चुनाव होना है। नियमानुसार वर्ष 2019 में चुनाव संपन्न हो जाना चाहिए था। लेकिन, कई तरह की अड़चनों के कारण ऐसा नहीं हो सका। अब फिर से बोर्ड का आदेश आया है।

सी नवीन कुमार

सहायक महामंत्री, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे श्रमिक यूनियन

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस