बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे की किसान ट्रेन बिलासपुर के किसानों को भा गई। आलम यह था कि पहले दिन फल व सब्जियां भेजने के लिए ट्रेन पहुंचने के 10 मिनट पहले तक बुकिंग कराने के लिए पहुंचते रहे। पपीता, खीरा, शिमला मिर्च व हरी मिर्च मिलाकर 22 टन माल भेजा गया। इस ट्रेन को सजाकर छिंदवाड़ा से रवाना की गई थी।

छिंदवाड़ा से हावड़ा के बीच चलाई जा रही 18 कोच की यह ट्रेन रात नौ बजे जोनल स्टेशन पहुंची। अमूमन सामान्य दिनों में रेलवे पार्सल कार्यालय से फल व सब्जियों को भेजने के लिए बुकिंग नहीं होती है। लेकिन इसके परिचालन को देखते हुए बिलासपुर रेल मंडल के कमर्शियल विभाग अधिक से अधिक बुकिंग कराने के निर्देश दिए थे। हालांकि यह किसी चुनौती से कम नहीं थी। क्योंकि बिलासपुर में ही स्थानीय स्तर पर फल व सब्जियों की इतनी खपत हो जाती है कि दूसरी जगह भेजने की आवश्यकता ही नहीं पड़ती। कमर्शियल विभाग की एक टीम पिछले कई दिनों से शहर के आसपास के किसानों व अन्य व्यापारियों के साथ बैठक कर उन्हें फल व सब्जियों को पार्सल से भेजने के लिए प्रेरित कर रहे थे। उन्हें इसकी बुकिंग में मिलने वाले फायदे और सुविधाओं को बताया जा रहा था। लेकिन किसी को यह नहीं मालूम था कि उनकी मेहनत रंग लाएगी या बेकार हो जाएगी। शाम चार बजे तक एक भी बुकिंग नहीं हुई थी। इसके बाद फल व सब्जियों को भेजने के लिए किसान पहुंचने लगे। लीज होल्डरों ने किसानों से संपर्क कर उन्हें बुकिंग कराने के लिए कहा था। इसी का नतीजा है कि शाम छह बजे के बाद बुकिंग कराने वालों की भीड़ बढ़ने लगी। एक के बाद एक रसीद कटती गई। इधर अधिकारी भी पल- पल बुकिंग की स्थिति का जायजा ले रहे थे। एक समय बाद यह स्थिति हो गई कि ट्रेन पहुंचने के 10 मिनट पहले तक फल व सब्जियों का स्टाक लेकर किसान व अन्य व्यापारी पहुंचते रहे।

भाड़े में 50 प्रतिशत छूट

किसान रेल सुविधा का लाभ अधिक से अधिक किसान ले सकें इसलिए सब्जी व फल परिवहन के भाड़े में 50 फीसद की रियायत देने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा पार्सल कार्यालय व मुख्य वाणिज्य निरीक्षक का नंबर भी जारी किया गया है ताकि उन्हें किसी तरह की असुविधा न हो।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस