बिलासपुर। जैविक खाद और फलों की डीलरशिप दिलाने का झांसा देकर संभाग के किसानों से एक करोड़ 76 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने वाले तीन आरोपितों को साइबर सेल ने पकड़ लिया है। पुलिस ने आरोपित के कब्जे से ढाई लाख नकद, मोबाइल, एटीएम कार्ड, बैंक पासबुक जब्त किया है।

एसपी प्रशांत अग्रवाल ने शनिवार को मामले की जानकारी देते हुए बताया कि शहर के गांधीनगर निवासी प्रतिमा मिश्रा ने 12 फरवरी को सिविल लाइन थाने में मामले की शिकायत की थी। इसमें बताया था कि वे साल 2019 में राहुल शर्मा, रचित मिश्रा, राजेश पांडेय, कबीर पाठक व आरके पांडेय के संपर्क में आई थीं। उन लोगों ने फलदार पौधों की सप्लाई और जैविक खाद सप्लाई करने वाली किसान इंडिया बायोटेक कंपनी की डीलरशिप दिलाने का झांसा दिया। डीलरशिप के लिए प्रतिमा ने राहुल शर्मा और उसके साथियों को दो किस्तों में पांच लाख रुपये चेक के माध्यम से दिए। इसके बाद वे गायब हो गए। तब प्रतिमा ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस को जांच में पता चला कि आरोपित युवकों ने किसान इंडिया बायोटेक के नाम पर बंधन बैंक में खाता खोला था। इसके माध्यम से एक करोड़ 76 लाख रुपये के चेक जमा कर राशि निकाली थी। इसमें संभाग के अलग-अलग जिलों के किसानों से रुपये लिए गए थे। जांच में पता चला कि आरोपितों ने सागर में बैंक खाता खोलकर पूरी रकम निकाल ली है। साथ ही यह भी जानकारी मिली कि आरोपित युवक उत्तर प्रदेश के गोरखपुर, बलरामपुर, लखनऊ शहर के रहने वाले हैं। इस पर पुलिस उत्तर प्रदेश पहुंची। वहां पता चला कि आरोपित छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में काम कर रहे हैं। तब पुलिस की टीम ने राजनांदगांव में दबिश देकर आरोपित शक्ति सिंह उर्फ सतीश सिंह पिता रामचंद्र सिंह(35 वर्ष) निवासी भैयया फूललबरिया थाना भवानी जिला देवरिया उत्तर प्रदेश, प्रदीप शर्मा उर्फ सौरभ सिंह पिता घनश्याम शर्मा(33 वर्ष) निवासी भगवतीगंज विष्णुपुर थाना नगर कोतवाली जिला बलरामपुर उत्तरप्रदेश व कृष्ण मोहन पांडेय पिता सीताराम पांडेय(42 वर्ष) निवासी चडेरिया थाना गगहा जिला गोरखपुर उत्तर प्रदेश को पकड़ लिया। वे नाम बदलकर ठगी करते थे।

राजनांदगांव में ठिकाना, निशाने पर कांकेर के किसान

आरोपित युवकों ने राजनांदगांव के बसंतपुर थाना अंतर्गत सृष्टि नगर में डेरा जमाया था। यहां से वे ग्लोबल एग्री बायोटेके के नाम से फर्म बनाकर कांकेर और दुर्ग में किसानों के बीच इसका प्रचार-प्रसार कर रहे थे। आरोपित युवक किसानों को फर्म के माध्यम से फलदार पौधों और खाद की डीलरशिप देने का झांसा दे रहे थे।

जांजगीर और झारखंड में दर्ज हैं मामले

आरोपित युवकों ने शहर के अलावा जांजगीर और मालखरौदा में धोखाधड़ी की थी। इसकी शिकायत स्थानीय थानों में दर्ज है। झारखंड में भी इनके खिलाफ जुर्म दर्ज है। पुलिस पकड़े गए आरोपित से पूछताछ कर रही है। इनसे और भी मामलों की जानकारी मिल सकती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस