बिलासपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। तारबाहर क्षेत्र स्थित खुदीराम बोस चौक पर खड़े लोग उस समय सकते में आ गए, जब एक युवक ने अपनी जेब से अचानक चाकू निकाला और खुद के गले में वार कर दिया। देखते ही देखते खून से लथपथ युवक जमीन पर गिर गया। इससे वहां हड़कंप मच गया और भीड़ जुट गई। उन्होंने इस घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने आहत युवक को इलाज के लिए सिम्स भेजा। इस बीच युवक की पहचान मुंगेली जिले के लोरमी क्षेत्र के युवक के रूप में की गई है।

घटना सोमवार दोपहर करीब 12 बजे की है। युवक यहां पान ठेला के पास खड़ा था। उसने चारों तरफ नजरें घूमाने के बाद अपनी जेब से चाकू निकाला और फिर खुद के गले में दो बार वार किया। इस नजारे को देखकर अफरा-तफरी की स्थिति निर्मित हो गई। देखते ही देखते युवक जमीन पर गिरा और खून से लथपथ होकर बेहोश हो गया।

इस दौरान कांग्रेस नेता शेख गफ्फार भी खड़े थे। उन्होंने इस घटना की सूचना थाने में दी। पुलिस मौके पर पहुंच गई और युवक को इलाज के लिए सिम्स पहुंचाया गया। इस बीच उसके बारे में पूछताछ की गई। लेकिन, स्थानीय लोगों ने उसे पहचानने से इन्कार किया और उसके कहीं बाहर से आने की बात कही।

उसके पास से आधार कार्ड मिला, जिसके आधार पर उसकी पहचान मुंगेली जिले के लोरमी ब्लॉक के ग्राम चचेरी के आवासपारा निवासी सतानु मोहले पिता ईतवारी मोहले (28) के रूप में की गई। सिम्स में प्राथमिक उपचार के बाद उसे केजुअल्टी वार्ड से इमरजेंसी वार्ड में शिफ्ट किया गया। उसके गले में टाका लगाया गया है। उसका उपचार चल रहा है और स्थिति सामान्य है।

पुलिस के माध्यम से परिजन को दी गई सूचना

तारबाहर टीआइ सुरेंद्र स्वर्णकार ने बताया कि युवक को उपचार कराने के लिए सिम्स में भर्ती कराने के बाद आधार कार्ड में दिए गए पते के अनुसार लोरमी थाने को युवक के बारे में जानकारी दी गई और उनके परिजन को सूचना देने कहा गया। देर शाम तक परिजन सिम्स नहीं पहुंचे थे।

क्यों कर रहा था आत्महत्या, जांच कर रही पुलिस

टीआइ स्वर्णकार ने बताया कि प्रथम दृष्टया युवक को अस्पताल पहुंचाना था। इसके चलते उससे बातचीत नहीं हो पाई है। पुलिस ने अभी युवक का बयान भी दर्ज नहीं किया है। इसके चलते यह पता नहीं चल सका है कि उसने इस तरह से आत्मघाती कदम क्यों उठाया। युवक के होश में आने के बाद उसका बयान दर्ज किया जाएगा।