राधाकिशन शर्मा

छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट की गंभीरता और हवाई सेवा संघर्ष समिति के लंबे संघर्ष के बाद आखिरकार बिलासपुर के लिए अच्छे दिन आ ही गए हैं। दो दिन बाद एक मार्च से चकरभाठा स्थित बिलासा एयरपोर्ट से बिलासपुर से दिल्ली के लिए हवाई उड़ान की शुरुआत हो रही है। अंचलवासी जबलपुर, प्रयागराज व दिल्ली की हवाई यात्रा कर सकेंगे। इसे लेकर शहरवासियों में उत्सुकता भी देखी जा रही है। बिलासा एयरपोर्ट परिसर में भव्य सभा स्थल बनाया जा रहा है। एक साथ एक हजार लोगों की बैठक क्षमता के अनुरूप डोम तैयार हो रहा है। शहरवासी व आसपास के ग्रामीण सभा स्थल में रहेंगे और देश की राजधानी दिल्ली से नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी व रायपुर से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आनलाइन कार्यक्रम में जुड़े रहेंगे और उद्घाटन की औपचारिकता पूरी कर अपनी बात भी रखेंगे। उद्घाटन समारोह को जिला प्रशासन की ओर से अंतिम रूप दिया जा रहा है।

चेहरा देखकर तिलक की तैयारी

यूथ कांग्रेस में राहुल माडल के दिन लद गए हैं। एक दशक पहले कुर्सी के लिए योग्यता देखी जाती थी। योग्य युवाओं की परख की जाती थी। इसके बाद जिम्मेदारी सौंपी जाती थी। तब पदनाम चमकदार था। विधानसभा और लोकसभा अध्यक्ष। शुस्र्आती दो वर्षों तक तो सब ठीक चला। माडल की चली तो दिग्गजों की राजनीति लड़खड़ाने लगी थी। लड़खड़ाती राजनीति के बीच माडल पर जंग लगाने योजना शुरू हुई। पर्दे के पीछे इनकी सक्रियता ऐसी बढ़ी कि योग्यताधारी युवा पीछे रह गए और इनके द्वारा थोपे गए चेहरे आगे आने लगे। कुर्सी भी इनके इर्द-गिर्द घूमने लगी। चर्चा तो इस बात की भी होने लगी है कि इस बार राहुल माडल के बजाय मनोनयन की राजनीति चलेगी। मतलब साफ है जो जितना ताकतवर हांेगे उनके समर्थकों की उतनी ही बल्ले-बल्ले। चेहरा देखकर तिलक लगाने की तैयारी शुरू हो गई है। अब तो अपनों की सूची तैयार हो रही है।

भविष्य की राजनीति के संकेत

केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानून को लेकर देश की राजनीति गरमाई हुई है। कांग्रेस का स्र्ख हमलावर है। किसानों का एक धड़ा विरोध की राजनीति पर अड़ा हुआ है। धरना प्रदर्शन का दौर जारी है। भाजपाई रणनीतिकार भी अन्न्दाताओं से जुड़े इस गंभीर विषय पर संजीदा नजर आ रहे हैं। प्रदेश भाजपा की चिंता कहें या फिर आने वाले दिनों की राजनीति में अपनी पैठ मजबूत बनाने की कोशिश। अनुषांगिक संगठनों मेें कसावट लाते दिखाई दे रहे हैं। किसान मोर्चा की टीम को देखकर ऐसा ही लग रहा है। सीनियर भाजपाइयों की टीम खड़ी कर दी गई है। जाहिर सी बात है कि आने वाले दिनों में प्रदेश की राजनीति में इनकी भूमिका कुछ खास रहने वाली है। किसानों के बीच पहुंचकर कानून की बारीकियों को बताने और भरोसा दिलाने की जिम्मेदारी इन्हीं चेहरों की रहेगी। ये ऐसे चेहरे हैं जिनकी बात पर अन्न्दाता भी हामी भरते हैं।

सीएम आएंगे, आंदोलन खत्म कराएंगे

बिलासपुर से हवाई सेवा की मांग को लेकर हवाई सुविधा संघर्ष समिति के पदाधिकारी अखंड धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शन आज भी जारी है। सुबह के वक्त राघवेंद्र राव सभा भवन परिसर में बने पंडाल में बैठे आंदोलनकारी अपनी बात प्रभावी ढंग से रखते नजर आते हैं। पंडाल के नीचे पदाधिकारियों को बैठते 260 दिन से अधिक हो गए हैं। एक मार्च से अब दिल्ली के लिए उड़ान शुरू हो रही है। छह महीने के भीतर एयरपोर्ट अथारिटी आफ इंडिया फोर सी लाइसेंस जारी कर देगा। ऐसी उम्मीद दिखाई देने लगी है। इन्हीं उम्मीदाें के बीच एक चर्चा यह भी छिड़ गई है कि अखंड धरना प्रदर्शन पर अब कुछ ही दिनों में विराम लग जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आने की चर्चा भी होने लगी है। सीएम पंडाल में आएंगे और आंदोलनकारियों से आंदोलन खत्म कराएंगे। सीएम के हाथों जूस पीने के बाद आंदोलन समाप्ति की घोषणा करेंगे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags