बिलासपुर। Bilaspur News: हावड़ा-मुंबई मेल और हावड़ा-अहमदाबाद एक्सप्रेस 72 दिन बाद जोनल स्टेशन पहुंची। हालांकि पहले जैसी भीड़ नजर नहीं आई। कोरोना को लेकर सभी के चेहरों पर खौफ था। ट्रेन में वही यात्री थे जिनका जाना बेहद जरूरी था। इसमें घर लौटने के अलावा मुंबई, नागपुर की बड़ी कंपनियों में काम करने वाले शामिल थे।

मेल सुबह 7.55 बजे जोनल स्टेशन में पहुंची। इसमें बिलासपुर से सफर करने वाले यात्रियों की संख्या 46 थी। सभी को रेलवे की ओर से चेतावनी थी कि ट्रेन पहुंचने के डेढ़ घंटे पहले स्टेशन आएं। इसके मद्देनजर यात्री तड़के पांच बजे पहुंच गए थे। सभी की थर्मल स्क्रनिंग से जांच हुई। इसके बाद सीधे प्लेटफार्म चार-पांच पर पहुंच गए। इस ट्रेन से यहां उतरने वाले यात्रियों की भी जांच की गई।

ट्रेन में सवार यात्री दहशत में थे। इसकी वजह कोरोना संक्रमण था। सभी यात्री सीट पर शांत बैठे रहे। यही स्थिति हावड़ा-अहमदाबाद एक्सप्रेस की थी। इसमें बिलासपुर से 76 यात्री चढ़े। इन सभी की भी जांच हुई। उम्मीद जताई जा रही है कि कुछ फेरे चलने के बाद इन ट्रेनों में यात्रियों की संख्या कम हो जाएगी। अभी वही यात्री सफर कर रहे हैं जो लॉकडाउन की वजह से फंस गए थे या फिर कामकाज के सिलसिले में जाना जरूरी है।

जनरल कोच में आरक्षण

इन दोनों ट्रेनों में जनरल कोच की सुविधा दी थी। लेकिन इसमें सफर करने वाले यात्रियों को भी सेकंड सीटिंग का आरक्षण कराना पड़ा। रेलवे ने पहले ही यात्रियों को इसकी जानकारी दे दी थी। जनरल टिकट काउंटर अभी बंद है। केवल पीआरएस खुल रहे हैं। जहां से यात्री रिजर्वेशन करा रहे हैं।

पहले ही दिन दोनों ट्रेनें लेट

पहले ही दिन ट्रेनें लेट पहुंचीं। सुबह 7.10 बजे पहुंचने वाली हावड़ा-मुंबई मेल 7.55 बजे और सुबह 11.40 बजे आने वाली हावड़ा- अहमदाबाद एक्सप्रेस दोपहर 12.28 बजे पहुंची।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस