बिलासपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। चकरभाठा क्षेत्र के परसदा से लगे ट्रांसपोर्ट नगर के ब्लीचिंग पाउडर गोदाम में सोमवार दोपहर उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब वहां शॅार्ट सर्किट के बाद अचानक आग लग गई। इस बीच ब्लीचिंग पाउडर के रासायनिक धुआं फैलने से सांस लेने में तकलीफ होने लगी। नगर सेना की दमकल की मदद से आग को काबू में किया गया, तब जाकर लोगों ने राहत की सांस ली।

चकरभाठा क्षेत्र के परसदा स्थित ट्रांसपोर्ट नगर में ओम इंटरप्राइजेस के संचालक शरद गुप्ता का गोदाम है। शरद अपनी गोदाम में भारी मात्रा में ब्लीचिंग पाउडर की बोरियां जमा कर रखा था। गोदाम का शटर बाहर से बंद था। दोपहर करीब दो बजे अंदर से आग की लपटों के साथ जोरदार धुआं उठने लगा। आग ब्लीचिंग पाउडर की बोरियों तक पहुंच गई थी। इसके चलते गोदाम के अंदर से ब्लीचिंग पाउडर का रासायनिक धुआं तेजी से आसपास में फैलने लगा।

इससे लोगों को घुटन महसूस होने लगी। इस बीच धुएं को देखकर अफरा-तफरी मच गई और लोगों की भीड़ जुट गई। वहीं रासायनिक धुएं की वजह से व्यापारियों की बेचैनी बढ़ गई। उन्होंने इस घटना की जानकारी दुकान संचालक शरद को दी। फिर फायर ब्रिगेड को भी बताया गया। नगर सेना के फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंच गई। दमकल टीम की सक्रियता से आग पर पानी की बौछारें मारकर काबू किया गया। आग बूझने के बाद धुआं भी बंद हो गया। इसके बाद आसपास के लोगों ने राहत की सांस ली। माना जा रहा है कि गोदाम के अंदर बिजली की शार्ट सर्किट के चलते आग लगी थी।

बेचैनी बढ़ी तो बंद की दुकानें

गोदाम के अंदर लगी आग से ब्लीचिंग पाउडर का रसायनिक धुआं तेजी से फैल रहा था। इसके चलते आसपास के रहसवासियों व व्यापारियों को बेचैनी होने लगी थी। आग बूझने के बाद भी धुआं उठ रहा था और ब्लीचिंग पाउडर के धुएं का दुर्गंध फैल रहा था। इससे लोगों को सांस लेने में परेशानी महसूस होने लगी। आग बूझने के बाद भी धुएं की वजह से बेचैनी के कारण व्यापारी अपनी-अपनी दुकानें बंद कर चले गए। वहीं, आसपास के लोग भी परेशान होते रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network