बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। उसलापुर के कांटीखार में सात साल का बालक अपने छोटे भाई और फुफेरे भाई के साथ खेल रहा था। इसी दौरान उनके पास मौजूद कुत्ते का बच्चा पानी की टंकी में गिर गया। इससे कुत्ते की मौत हो गई। इसकी जानकारी होने पर पड़ोसी ने उसे डांट दिया। मारपीट के डर से बालक घर से भाग निकला। इधर बालक के नहीं मिलने पर स्वजन ने मामले की शिकायत सकरी थाने में की है। पुलिस बालक की तलाश कर रही है।

उसलापुर के कांटीखार में रहने वाले मंटू खांडेय निजी संस्थान में काम करते हैं। उनका साला अजय मांडले अपनी पत्नी को लेकर कमाने खाने के लिए पुणे गया है। उसने अपने सात साल के बेटे लड्डू और पांच साल के बेटे को अपने जीजा मंटू के पास छोड़ दिया है। दोनों बच्चे अपने फुफा के पास रहते हैं। मंगलवार की सुबह मंटू अपने काम में चला गया। उनकी पत्नी सुनीता बेटी को लेकर अस्पताल चली गई। इस दौरान लड्डू अपने छोटे भाई और फुफेरे भाई के साथ घर के पास खेल रहा था।

उनके पास कुत्ते का एक बच्चा भी था। खेल के दौरान कुत्ते का बच्चा पानी की टंकी में गिर गया। पानी में डूबकर कुत्ते की मौत हो गई। दोपहर तीन बजे सुनीता अपने बेटी को लेकर अस्पताल से लौटी। लड्डू को घर में नहीं देखकर उसने अपने बेटे से पूछताछ की। उसने बताया कि कुत्ते का बच्चा टंकी में गिरकर मर गया। इसकी जानकारी होने पर पड़ोस में रहने वाले धन्नू मनहर ने उसे डांट दिया। इसके बाद मारपीट के डर से बालक घर से भाग निकला। इसकी जानकारी होने पर मंटू ने घटना की शिकायत सकरी थाने में की है। नाबालिग का मामला होने के कारण पुलिस ने अपहरण का अपराध दर्ज किया है। पुलिस की टीम उसकी तलाश कर रही है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close