Bilaspur News: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। ट्रेन से मोबाइल चोरी के प्रकरण में बिलासपुर जेल में सजा काट रहे दो बांग्लादेशी नागरिकों की फरवरी में रिहाई है। न्यायालय ने दोनों को वापस बांग्लादेश भेजने जीआरपी को निर्देश दिया है। इसके लिए जीआरपी ने मंत्रालय को पत्र भेजा है, ताकि वीजा से लेकर अन्य जरूरी दस्तावेज बनाने की प्रक्रिया पूरी हो सके।

वर्ष 2021 में अहमदाबाद से हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन में मोबाइल चोरी करने के मामले में चार पुरुष, दो महिला को गिरफ्तार किया गया था। उनके साथ चार बच्चे भी थे। इस मामले में जीआरपी ने अपराध दर्ज कर कार्रवाई की थी। आरोपितों के पास बांग्लादेश से भारत आने का कोई भी वैध दस्तावेज नहीं था। इस मामले में सभी को दो साल की सजा और 10 हजार रुपये जुर्माना किया गया था। दोनों बिलासपुर जेल में बंद हैं। दो की सजा अगले माह पूरी हो रही है, जिन्हें वापस बांग्लादेश भेजने की कार्रवाई का आदेश न्यायालय ने जीआरपी को दिया है।

ये भी पढ़ें: Accident in Bilaspur: बेटी को अस्पताल में भर्ती कराकर लौट रहे पिता की सड़क हादसे में मौत

इन्हें आरपीएफ ने पकड़कर जीआरपी के हवाले किया था। इन्हीं में से दो अनारूल लश्कर और इमरान शेख की 10 फरवरी 2023 को सजा पूरी हो जाएगी। शासकीय रेलवे पुलिस अधीक्षक जेआर ठाकुर ने बताया कि न्यायालय ने दोनों को बांग्लादेशी छोड़ने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए वीजा की आवश्यकता है। इस प्रक्रिया के लिए गृह मंत्रालय को पत्र लिखा गया है। जहां से अनुमति मिलने के बाद उन्हें छोड़ा जाएगा।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close