Bilaspur News: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। गर्मी का सीजन आ चुका है। इस मौसम में रसीले कलंदर (तरबूज) फल सभी को चिलचिलाती गर्मी से राहत देते हुए गले को तर कर देते हैं। इन मौसमी फलो में सबसे खास शिवरीनारायण के तरबूज से बाजार में बहार आ गया है। महानदी के तट पर होने वाला यह फल कुछ ज्यादा ही खास रहता है। यह पूरे शहरवासियों के लिए खास रहता है। वहीं अब शिवरीनारायण के तरबूत का स्वाद सभी चखकर तरोताजा हो रहे हैं और भीषण गर्मी से निपटने की शक्ति भी मिल रही है।

जांजगीर-चांपा जिले के धार्मिक स्थली शिवरीनारायण महानदी के किनारे बसा है। इस नदी की खास बात यह है कि इसके तट किनारे होने वाले फलों का स्वाद ही कुछ अलग रहता है। यहां पर सबसे ज्यादा तरबूत व खरबूजा का उत्पादन होता है। उनका आकार भी बड़ा रहता है और इन्हें खास बनाता है इनका स्वाद। शिवरीनारायण की खरबूजा व तरबूज की सबसे ज्यादा डिमांड बिलासपुर में रहती है। जैसे ही गर्मी आते ही यह फल तैयार होता है और अन्य शहर भेजने के साथ बड़ी मात्रा में इसे बिलासपुर भेजा जाता है।

शहर के लगभग सभी बाजार में यहां तरबूज नजर आने लगता है। मौजूदा स्थिति में गर्मी शुरू हो गई और आने वाले कुछ दिनों में ही अपने चरम पर आ जाएगी। ऐसे में यह तरबूज ही लोगों को तरोताजा करेगा। जैसे ही शिवरीनारायण का तरबूज शहर में पहुंचता है, वैसे ही यह सभी शहरवासियों को पहली पसंद बन जाता है और पूरे गर्मी लोग इसी का स्वाद चखने पर भरोसा रखते हैं।

अन्य शहरों में भी किए जाते हैं पसंद

शिवरीनारायण से तरबूज और खरबूजा बाजार में लोगों को लुभाने के लिए आने लगे हैं। इसकी मिठास से जिले सहित राज्य के लोग तो भलीभांति परिचित हैं, लेकिन सबसे अहम यह है कि अब इसकी मिठास की पहचान मुंबई तक पहुंच चुकी है। यहां से बड़ी मात्रा में खरबूजा व तरबूज मुंबई, नासिक, शहडोल, भोपाल, जबलपुर भुवनेश्वर आदि बड़े शहरों में भेजा जा रहा है।

Posted By: Abrak Akrosh

छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़
  • Font Size
  • Close