बिलासपुर। वैसे तो अधिकांश ट्रेनें रद है। पर जो चली रही है उनमें इतनी अधिक भीड़ है की यात्रियों की परेशानी बढ़ गई है। यात्रियों के साथ- साथ इस भीड़ का दबाव जनरल टिकट काउंटर में भी नजर आने लगा था। जिसे देखते हुए दो पाली में एक- एक काउंटर बढ़ा दिए गए हैं, ताकि यात्रियों को टिकट मिल जाए। टिकट नहीं मिलने के कारण यात्रा रद न हो।

नागपुर रेल मंडल में इंरलाकिंग का कार्य चल रहा है। इस काम को देखते हुए रेलवे ने 68 ट्रेनें रद कर दी है। ये ट्रेनें अलग- अलग तिथि में नहीं चल रही है। जिसके चलते यात्रियों की परेशानी बढ़ गई है। इधर जिन ट्रेनों का परिचालन हो रहा है, उस ट्रेनों के जनरल कोच की स्थिति बदत्तर है। दरअसल रद सभी ट्रेनों की भीड़ इनमें चढ़ती है। यह स्वाभाविक भी है। यदि सुविधा नहीं मिलेगी तो गंतव्य तक पहुंचने के लिए कोई न कुछ नाया प्रयास तो करना ही पड़ेगा।

ट्रेन के अलावा यह भीड़ जोनल स्टेशन के गेट नंबर तीन पर स्थित जनरल टिकट काउंटर में भी दिखने लगा था। रेलवे अब तक यहां सुबह की पाली में चार काउंटर और दूसरी पाली में तीन काउंटर ही खोल रहे थे। लेकिन भीड़ के आगे यह पर्याप्त नहीं है। इसके कारण यात्रियों के बीच आपसी विवाद भी होने लगा था। यह जानकारी अधिकारियों को दी गई। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर दोनों पाली के लिए एक- एक काउंटर बढ़ा दिए गए हैं। अब सुबह पांच और दोपहर चार काउंटर खुल रहे हैं।

इसके अलावा स्टेशन उस पार भी दोनों पाली में एक- एक काउंटर खुल रहा है। इससे यात्रियों को राहत भी मिली है। भीड़ सबसे ज्यादा उस समय नजर आती है, जब ट्रेन बिलासपुर पहुंचने वाली हो। स्टेशन उस खुले नए यूटीएस में टिकट बिक्री बिल्कुल सामान्य है और इसे लेकर रेल प्रशासन चिंतित भी है। हालांकि यात्री लगातार यहां टिकटों के आरक्षण की सुविधा की मांग भी की जा रही है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close