Bilaspur Railway News: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। बिलासपुर–अनूपपुर रेल मार्ग दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की एक महत्वपूर्ण तथा व्यस्त रेल मार्ग है। इस पूरे क्षेत्र को उत्तर भारत से जोड़ने है। नई गाडियों के मार्ग प्रशस्त करने के लिए नई लाइनों का निर्माण कार्य किया जा रहा है । इससे आधारभूत संरचना में विकास के साथ नई यात्री सुविधाओं में वृद्धि होगी। इससे यात्री ट्रेनें भी प्रभावित नहीं होगी। इसी दिशा में सक्रिय रूप से कार्य करते हुए बिलासपुर से अननुपुर के बीच दोहरीकरण लाइन का कार्य किया जा रहा है।

इसके अंतर्गत अंतर्गत बिलासपुर–पेंड्रा रोड सेक्शन के उसलापुर रेलवे स्टेशन को दोहरीकरण लाइन से जोड़ने के लिए नान इंटरलाकिंग का कार्य किया जाएगा। मालूम हो कि बिलासपुर–पेंड्रारोड रेलमार्ग की लंबाई 103 किलोमीटर है, जिसके विभिन्न स्टेशनों को तीसरी लाइन से जोड़ा भी जा चुका है। इस कार्य को चरणबद्ध तरीके से पूरा किया जा रहा है। इस कार्य को तीव्र गति से पूरा करने के लिए दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के बिलासपुर रेल मंडल के अंतगर्त बिलासपुर–पेंड्रारोड सेक्शन में दोहरीकरण लाइन में विधुतीकरण का कार्य के लिए उसलापुर रेलवे स्टेशन पर द्वि-दिशात्मक फ्लाई ओवर लाइन कनेक्टिविटी का नानइंटर लोकिंग कार्य किया जाएगा। यह नान-इंटरलाकिंग का कार्य एक से चार फ़रवरी तक छह किया जाएगा। अभिनव तरीके से संपादित किए जाने वाले इस कार्य के सबसे महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि इसमें किसी भी ट्रेन को कैंसिल नहीं किया जाएगा। इसके अलावा, रेगुलेशन, रिशिड्यूलिंग, बीच रास्ते मे समाप्त और परिवर्तित नहीं किया जा रहा है। इसके तहत नान-इंटरलाकिंग कार्य छह दिन में किया जाएगा।

बिलासपुर से अनूपपुर के बीच दोहरीकरण रेलवे लाइन दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की एक बहुत महत्वपूर्ण लाइन है, जो मध्य भारत के इस क्षेत्र को उत्तर भारत से जोड़ने सेतु का कार्य करती है । बिलासपुर से कटनी और उससे भी आगे इस पूरे क्षेत्र की मध्य भारत और दिल्ली, मुंबई, मद्रास, कोलकाता, भोपाल, जबलपुर, कोटा, इलाहाबाद जैसे महत्वपूर्ण नगरों से जुड़ाव इसी लाइन के द्वारा होता है । तीसरी लाइन का कार्य पूरा होते ही भविष्य में गाड़ियों के परिचालन में गतिशीलता आने के साथ ही इस क्षेत्र के आर्थिक और सामाजिक विकास के नए आयाम प्रशस्त होंगे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close