बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ट्रेनें रद है और भीड़ नहीं है। इस अवसर का रेलवे पूरा फायदा उठा रही है और फटाफट अधूरे कार्यों को पूरा किया जा रहा है। इसी में एक जनरल टिकट काउंटर के सामने लगे फर्श है। जहां नए पत्थर लगाकर इस एरिया को चकाचक किया जा रहा है। इसके साथ अन्य प्लेटफार्म पर चेकर टाइल्स भी लगाई जा रही है, ताकि यात्रियों को प्लेटफार्म पर चलने में किसी तरह की दिक्कत न हो।

रेलवे का पूरा फोकस ट्रेन परिचालन से ज्यादा अधोसंरचना से जुड़े कार्यों को पूरा करने में हैं। जिसके चलते थोक में ट्रेनें रद कर दी गईं है। कटनी सेक्शन में 37 और हावड़ा सेक्शन की 66 ट्रेनों के पहिए थमे हुए हैं। ऐसे में गिनती की ट्रेनें ही चल रही है। इस वजह से स्टेशन में यात्रियों की भीड़ न के बराबर है। हमेशा यात्रियों की कतार नजर आना जनरल टिकट काउंटर में सन्नाटा पसरा हुआ है। इसे देखते हुए ही रेलवे यहां पत्थर लगाकर इस क्षेत्र को यात्रियों की सुविधा के अनुरूप बना रहा है। ट्रेनों के परिचालन व भीड़ होने पर इस काम को करने में दिक्कत आएगी। इसलिए अभी काम पूरा करने का निर्णय लिया गया है।

जिस तेजी से काम चल रहा है, उससे लग रहा है कि ट्रेनों के पटरी पर आने के पहले ही काम पूरा हो जाएगा। प्लेटफार्म पर चेकर टाइल्स भी लगाई जा रही है। यह भी जरुरी है, क्योंकि यात्रियों को अभी बड़ी दिक्कत हो रही थी। कई काम अधूरे पड़े थे। लेकिन इसे समय रहते रेलवे पूरा करना चाह रही है। हालांकि कुछ जगहों के पत्थर सही है और उन्हें बदलने की आवश्यकता नहीं थी, पर रेलवे इसे अवसर देखकर बदल दे रही है। जगह- जगह मलबा व निर्माण सामग्री होने के कारण यात्रियों को थोड़ी दिक्कत भी हो रही है। खासकर सहयोग केंद्र (पूछताछ केंद्र) तक पहुंचने के लिए यात्रियों को थोड़ी दिक्कत हो रही है। रेलवे द्वारा यह कार्य प्रगति का बोर्ड लगाया गया है, ताकि यात्री संभलकर चल सके।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close