बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। बिल्हा क्षेत्र के भैंसबोड़ में रहने वाले युवक की आत्महत्या के चार दिन बाद एसपी पास्र्ल शुक्रवार को बिल्हा थाने पहुंचीं। उन्होंने थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों से पूछताछ कर घटना की जानकारी ली। इसके बाद युवक के खिलाफ शिकायत करने वाली लड़कियों, युवक के मां-पिता और उसके जीजा के संबंध में जानकारी ली। एसपी ने मामले की जांच कर रही टीम को भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं।

बिल्हा क्षेत्र के भैंसबोड़ में रहने वाले हरिशचंद्र गेंदले के खिलाफ चार लड़कियों ने विवाद करने की शिकायत की थी। इस मामले में थाने में तैनात जवान युवक की तलाश में गांव गए। युवक के नहीं मिलने पर उसके पिता भागीरथी को थाने ले आए। बाद में दोनों पक्ष के बीच समझौता हो गया। घर जाने के बाद युवक ने ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। सोमवार की रात हुई इस घटना के बाद मंगलवार की सुबह स्वजन ने युवक के पिता भागीरथी से पुलिसकर्मियों द्वारा मारपीट का आरोप लगाया। स्वजन मारपीट करने वाले आरक्षक रूपलाल चंद्रा को बर्खास्त करने और उसके खिलाफ आत्महत्या का जुर्म दर्ज करने मांग कर रहे थे।

दिनभर चले हंगामे के कारण युवक का पीएम नहीं हो पाया। बुधवार को जिला अस्पताल में उसका पीएम कराया गया। इसके बाद स्वजन शव लेने से इन्कार करने लगे। समझाइश के बाद स्वजन गुस्र्वार की सुबह शव लेकर गए। शुक्रवार को एसपी पास्र्ल माथुर बिल्हा थाने पहुंची। उन्होंने थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों से घटना के संबंध में जानकारी ली है। इसके साथ ही उन्होंने थाने के सीसीटीवी का फुटेज भी देखा। एसपी ने मामले की जांच कर रहे एएसपी राजेंद्र कुमार जायसवाल और सिरगिट्टी थाना प्रभारी पौस्र्ष पुर्रे को आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close