बिलासपुर। Bilaspur Weather News: चक्रवाती घेरे का असर दक्षिणी छत्तीसगढ़ में ज्यादा तो उत्तरी छत्तीसगढ़ में आंशिक रूप से हुआ है। ऐसे में बिलासपुर शहर समेत पूरे संभाग में ठंड में हल्की कमी आई हैै। तापमान में मामूली बढ़ोतरी के चलते बुधवार की रात के साथ ही गुरुवार की सुबह भी ज्यादा ठंड नहीं थी। हालांकि वातावरण में नमी कम होने के बाद एक बार फिर बेतहाशा ठंड बढ़ने का अनुमान मौसम विज्ञानियों ने लगाया है।

रायपुर मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानियों का कहना है कि अभी तमिलनाडु समेत दक्षिण भारत के कुछ क्षेत्रों में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इससे वहां का मौसम बदल गया है। उसकी दिशा उत्तर— पश्चिम है। ऐसे में छत्तीसगढ़ के दक्षिणी इलाके में बादल छाए हुए हैं। वहां से होते हुए उत्तरी छत्तीसगढ़ में भी नमी आ रही है। दूसरी ओर, उत्तर भारत से आने वाली ठंडी हवाओं पर हल्की रोक लग गई है। ऐसे हालात में ठंड कम हो गई है। बीते दिनों इसके विपरीत स्थिति बन गई थी और ठंड अपने आगोश में बिलासपुर शहर समेत संभाग को ले लिया था। इससे शाम होते ही ठंड महसूस होने लग रही थी और रात में ज्यादा ही ठंड पड़ रही थी। अब इस पर रोक लग गई है। दो से तीन दिनों में वही स्थिति फिर आने का अनुमान है। इससे न्यूनतम तापमान जहां 15 डिग्री से फिर ​नीचे आ जाएगी और दिन का पारा भी 27 से 28 डिग्री तक ही पहुंचेगा। तब ठंड से लोगों का हाल बेहाल होगा।

ऐसे में एक बार फिर गर्म कपड़ों की उपयोगिता और बढ़ जाएगी। हालांकि उसके लिए अभी दो से तीन दिन का समय लगेगा। कुछ इसी तरह की स्थिति पेंड्रारोड में भी देखने को मिलेगा। वह क्षेत्र तो प्रदेश के सबसे ठंडे इलाकों में से एक है। इससे वहां तापमान में और ज्यादा गिरावट आएगी, जिससे वहां पाला जमने जैसी स्थिति बनेगी।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local