बिलासपुर। स्मार्ट सिटी के पैसे का सिर्फ बंदरबांट किया जा रहा है। इन पैसों का जमकर दुरूपयोग कर जेबे भरने का काम किया जा रहा है। इस तरह के दुरपयोग को तत्काल रोकना होगा। नगर निगम अंतर्गत वार्डों का विकास कार्य ठप हैं, उसे फिर से चालू करना होगा। नहीं तो भाजपा बड़ा आंदोलन करेेगी। ये बातें पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने बुधवार को स्मार्ट सिटी के पैसों के हो रहे दुरूपयोग को लेकर विकास भवन के सामने भाजपा के आयोजित धरना प्रदर्शन के दौरान कही।

अमर अग्रवाल ने राज्य सरकार के साथ साथ नगर सत्ता में बैठी कांग्रेस सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि प्रदेश में साढ़े तीन वर्ष हो चुके हैं। कांग्रेस को नगर निगम में लगभग ढाई वर्ष हो चुके हैं। इस अवधि में सारे विकास कार्य ठप पड़े हुए हैं। मौजूदा स्थिति में पानी की किल्लत से लोग परेशान हैं। बूंद बूंद पानी के लिए लोग तरस रहे हैं। तालापारा, तारबहार, हेमूनगर आदि क्षेत्रों में पानी की समस्या जस की तस बनी हुई है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत हजारों मकान बनकर तैयार हैं पर उसका आवंटन जानबूझकर नहीं किया जा रहा है। नीयत में खोट हैं। तत्काल प्रधानमंत्री आवास आवंटन किए जाने चाहिए। अमृत मिशन में 400 करोड़ स्र्पये हमने आवंटन कराया था।

साढ़े चार वर्ष पूर्व की खूटांघाट से पानी लाकर फील्टर प्लांट के माध्यम से साफ पानी घर-घर पहुंचाने की योजना भी पूरी नहीं हो सकी है। इस तरह के तमाम कार्य हैं, जो स्र्के हुए हैं या फिर उनमें जमकर कमीशनखोरी चल रही है। इसकी वजह से नगर का विकास थम सा गया है। यदि अब भी यह रवैया अपनाया जाता रहा तो भाजपा को उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा। धरना-प्रदर्शन और घेराव के दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष रामदेव कुमावत, गुलशन ऋषि, अमरजीत दुआ, विनोद सोनी, किशोर राय, नगर निगम नेता प्रतिपक्ष अशोक विधानी, पूजा विधानी, उमाशंकर जायसवाल, आर विभाराव, जुगल अग्रवाल, अजीत सिंह भोगल, अरविंद बोलर, संदीप दास, उदय मजूमदार, मनीष अग्रवाल, विजय ताम्रकार, राजेश मिश्रा, महेश चंद्रिकापुरे के साथ बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता और वार्ड के नागरिक उपस्थित रहे।

जमीन पर हो रहा कब्जा, शांत बैठी है सरकार

पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने प्रदेश सरकार, नगर सरकार एवं जिला प्रशासन के ऊपर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश के साथ साथ शहर में तेजी से अपराध बढ़ रहे हैं। हत्या, डकैती, लूटमार, नशे की कालाबाजारी, दुकान, मकान एवं जमीन पर कब्जा हो रहा है। इसमें कांग्रेस के लोगों की सहभागिता भी है। लोगों में खौफ व डर या है। सरकार एवं प्रशासन पूरी तरह फेल हो चुके हैं या किसी के दबाव में आकर काम कर रहे हैं। अमर अग्रवाल ने चेतावनी देते हुए कहा की यह तो शुस्र्आत है अगर समय से पहले नहीं चेते तो इससे बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

वार्डों की समस्या पर ध्यान नहीं

पूर्व महापौर उमाशंकर जायसवाल ने कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि शहर में समस्या बढ़ चुकी है। इस पर कोई भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। पानी किल्लत, साफ सफाई न होने, बजबजाती नालियां, मच्छरों के प्रकोप से लोग परेशान हैं। तालापारा में कांग्रेस के पार्षद एवं कार्यकर्ता परेशान होकर अपनी ही सरकार का विरोध कर नारेबाजी कर रहे हैं।

जनता से कोई सरोकार नहीं

पूर्व महापौर किशोर राय ने भी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार में बैठे लोग काम करना छोड़ खाली फोटो खिंचवाने में लगे रहते हैं। जनता ने जब इन्हें चुना है तो जनता के काम इन लोगाें को करने होंगे। वह समय दूर नहीं जब जनता इनको घर बैठा कर एवं सत्ता से उखाड़ फेंकने तैयार बैठी है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close