बिलासपुर। जोनल स्टेशन में एक से दूसरे प्लेटफार्म पर जाने के लिए बने फुट ओवरब्रिज का शेड करीब दो साल से गायब है। मरम्मत के दौरान इसे हटाया गया था। पर उसके इसे लगाना रेलवे भूल गई है। इसका खामियाजा यात्रियों को भुगतना पड़ रहा है। ब्रिज की हालत देखकर ही यात्री इससे गुजरने में कतरा रहे हैं। लेकिन रेलवे इसकी मरम्मत तक नहीं करा रह है, जिसके चलते यात्रियों को खतरा बना हुआ है।

बिलासपुर रेलवे स्टेशन के गेट नंबर एक में सुंदरीकरण का कार्य लगभग पूरा कर लिया गया है। इस गेट के पास यात्रियों को काफी बड़ी खाली जगह मिल रही है। लेकिन यहां पर कुछ तकनीकी दिक्कतों के कारण यात्रियों को परेशानी हो रही है। दरअसल गेट नंबर एक को भव्य बनाने के लिए प्लेटफार्म नंबर एक के नागपुर अंतिम छोर में बने फुटओवर ब्रिज को तोड़ा गया था। जिसकी छत आधे से ज्यादा गायब हो चुकी है। इसके चलते यात्रियों को परेशानी हो रही है। यात्री कोशिश करते हैं की इस ब्रिज न गुजरना पड़े। जो यात्री हिम्मत कर गुजरता भी है वह सहमा रहता है। इस ब्रिज का आधा हिस्सा टूटा हुआ है। आधे हिस्से का उपयोग यात्री प्लेटफार्म नंबर दो-तीन व चार-पांच पर जाने के लिए कर रहे हैं। लेकिन जिस जगह पर अभी नया फुटओवर ब्रिज बनाया गया है, उसे आधे में ही छोड़ दिया गया है। जिसके चलते यात्रियों को दिक्कत हो रही है। यात्रियों को टूटे हुए शेड से काफी परेशानी हो रही है। तेज अंधड़ से फुटओवर ब्रिज पर लगा टीन ,लोहे के एंगल के नीचे गिरने की आशंका बनी रहती है। इधर मरम्मत के लिए रेलवे के अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं। जिसके चलते यात्रियों में नाराजगी हैं। यह टूटा हुआ ब्रिज हादसो को आमंत्रण दे रहा है। यह जानते हुए भी रेलवे का संबंधित विभाग शेड लगाकर मरम्मत कार्य करने में जरा भी रूचि नहीं ले रहा है।

[

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close