बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

अधिक कमाई के चक्कर में बस संचालक नियमों का न केवल उल्लंघन कर रहे हैं, बल्कि यात्रियों की जान भी जोखिम में डाल रहे हैं। मंगलवार को रतनपुर मार्ग पर परिवहन विभाग की जांच में ऐसी ही एक बस को जब्त किया गया। इसकी क्षमता 60 यात्रियों की हैं लेकिन इसके अंदर 110 यात्री बैठाए थे। 30 हजार रुपये जुर्माना जमा करने के बाद चेतावनी देकर बस को छोड़ा गया।

परिवहन विभाग की टीम सुबह से इस मार्ग पर औचक जांच करने के लिए पहुंची। उसी समय बस क्रमांक एम-18 पी 0846 नजर आई। चालक को इशारा कर किनारे रोकने के लिए कहा गया। इसमें प्रयाग बस सर्विस लिया हुआ था। बस के अंदर का नजारा देखकर टीम हैरान रह गई। यात्रियों को ठुस-ठुसकर बैठाया गया था। चालक से कागजात मांगे गए। उसकी जांच में स्पष्ट हुआ कि बस की सीटिंग क्षमता केवल 60 है। लेकिन अधिक कमाई के चक्कर में यात्रियों को जबरिया बैठाया गया था। इसके बाद यात्रियों का आकलन किया गया। इस दौरान 50 यात्री क्षमता से अधिक बैठे मिले। पहले तो इस लापरवाही पर चालक व कंडक्टर को जमकर फटकार लगाई गई। इसके बाद बस को जब्त कर लगरा स्थित परिवाहन कार्यालय लाया गया। यह बस बिलासपुर से इलाहाबाद के बीच चलती है। अधिक दूरी होने और संसाधन के अभाव में मंजिल पहुंचने की हड़बड़ी में यात्री भी बैठ जाते हैं। लेकिन इससे बस कभी भी अनियंत्रित होकर दुर्घटनाग्रस्त हो सकती है। ऐसे में यात्रियों की जान पर बन सकती है। इस कार्रवाई के बाद जांच जारी रही। इस बीच पांच अन्य बसें इसी तरह मिलीं, जिनमें क्षमता से अधिक यात्रियों को बैठाए गए थे। हालांकि इनमें संख्या थोड़ी कम थी। इसलिए चार हजार रुपये जुर्माना किया गया। जबकि प्रयाग बस सर्विस की लापरवाही के लिए 30 हजार रुपये जुर्माना किया गया। जुर्माने की राशि जमा करने के बाद ही बस छोड़ी गई।

28 वाहन चालकों पर छह लाख 68 हजार पर जुर्माना

विभाग की यह जांच काफी दिनों बाद हो रही थी। यही वजह है कि औचक जांच के कारण बस समेत अन्य वाहनों के चालकों में हड़कंप मच गया। लेकिन जो पकड़ में आए बारी- बारी उनकी जांच की गई। इस दौरान पांच ओवरलोड वाहन भी पकड़ में आए। जिनके खिलाफ 66 हजार 500 रुपये जुर्माना किया गया। इस एक दिन की जांच में परिवहन विभाग ने 28 वाहन चालकों के खिलाफ छह लाख 68 हजार 105 रुपये का जुर्माना किया गया। इनमें चार वाहनों का टैक्स भी बकाया था। इनसे भी पांच लाख 55 हजार 605 रुपये टैक्स जमा कराया गया।

जारी रहेगी जांच, होगी कार्रवाई

क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी असीम माथुर व परिवहन निरीक्षक आनंद शर्मा ने बताया कि बेलगाम व नियमों को तोड़ने वाले वाहनों चालकों की धरपकड़ के लिए नियमित जांच होगी। इस दौरान लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ जुर्माने की कार्रवाई होगी। उन्हें चेतावनी भी दी जाएगी, ताकि दोबार वह इस तरह उल्लंघन न करें।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local