बिलासपुर। छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग(पीएससी) मेंस की परीक्षा चल रही है। तीसरे दिन शनिवार को सीजी पीएससी के सदस्य डा. मोतीलाल बाचकर कौशलेंद्र राव विधि महाविद्यालय परीक्षा केंद्र में औचक निरीक्षण पर पहुंचे। इससे केंद्र में हडकंप मच गया। डा. बाचकर ने परीक्षा हाल में जाकर व्यवस्था का जायजा लिया। केंद्राध्यक्ष प्रो. सतीश तिवारी से पूछताछ भी की। शनिवार को पीएससी मुख्य परीक्षा की प्रथम पाली में सामान्य अध्ययन तृतीय व द्वितीय पाली में सामान्य अध्ययन चतुर्थ प्रश्नपत्र का पर्चा हुआ।

प्रथम पाली में 1194 प्रतियोगी पंजीकृत थे। इनमें से 1102 ने पर्चा हल किया। वहीं, 92 प्रतियोगी अनुपस्थित रहे। इसी तरह द्वितीय पाली में 1097 प्रतियोगी उपस्थित व 97 अनुपस्थित थे। 29 मई को आखिरी दिन प्रथम पाली में सामान्य अध्ययन पंचम प्रश्नपत्र के साथ परीक्षा पूर्ण होगी। शनिवार को पर्चा शुरू होने के कुछ देर बाद जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ पीएससी के सदस्य पहुंच गए। परीक्षा केंद्र में सारी व्यवस्थाएं देखने के बाद प्रतियोगियों के पेन, उत्तरपुस्तिका व जूते-मोजे की जांच की। केंद्र में सारी व्यवस्थाएं दुरूस्त मिलीं। सीसीटीवी की स्थिति भी ठीक थी। पानी की व्यवस्था को और दुरूस्त करने कहा गया।

छग में ज्यादा वर्षा कहां होती है

पीएससी मेंस की परीक्षा में शनिवार को पूछा गया कि छत्तीसगढ़ में अधिकतम वर्षा कहां होती है। तालागांव में स्थित प्राचीन मंदिरों में सांस्कृतिक महत्व बताने को कहा गया। टीन का उत्पादन व वितरण सहित भौगोलिक स्थिति को लेकर प्रश्न पूछा गया था। रविवार को आखिरी पर्चा होगा। माना जा रहा है कि इस दौरान परीक्षा केंद्रों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम होंगे।

पीपीटी की परीक्षा आज, 1397 परीक्षार्थी होंगे शामिल

रविवार को प्री पालीटेक्निक टेस्ट यानी पीपीटी चार केंद्रों में होगा। व्यावसायिक परीक्षा मंडल(व्यापम) द्वारा आयोजित इस परीक्षा में 1397 परीक्षार्थी शामिल होंगे। परीक्षा सुबह नौ बजे से दोपहर 12.15 बजे तक होगी। परीक्षार्थियों को 30 मिनट पहले उपस्थिति दर्ज करानी होगी। बिना प्रवेश पत्र एवं आइडी कार्ड के प्रवेश् नहीं मिलेगा। केंद्रों में कोविड-19 निर्देशों का पालन अनिवार्य है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close