बिलासपुर। छत्तीसगढ़ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ राज्य सरकार के खिलाफ अगले महीनें मोर्चा खोलने की जबरदस्त तैयारी में है। संघ की ओर से कार्यकर्ता को शत प्रतिशत सुपरवाइजर बनाने, प्री नर्सरी का दर्जा एवं कलेक्टर दर पर मानदेय में वृद्धि को लेकर लंबे समय से मांग कर रहे हैं। संघ ने यह भी आरोप लगाया कि राज्य सरकार चुनावी घोषणा पत्र में शामिल करने के बाद भी वादाखिलाफी कर रही है। जिसे लेकर 10 से 16 दिसंबर तक बड़े आंदोलन की तैयारी है।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ बिलासपुर की परियोजना अध्यक्ष मंजू मेश्राम ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि हम अपनी मांगों को लेकर तथा राज्य सरकार को वायदा पूरा करने कराने की मांग को लेकर बूढ़ा तालाब रायपुर में धरना आंदोलन करेंगे। 10 दिसंबर से 16 दिसंबर तक पूरे प्रदेश भर के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका बहने धरना प्रदर्शन करेगी। संघ ने राज्य सरकार पर वायदा खिलाफी का आरोप लगाया है।

पिछले दिनों एक बैठक कर संघ के प्रांतीय संयोजक देवेंद्र पटेल, संरक्षक पीआर कौशिक सहित आरपी शर्मा, भारती मिश्रा एवं सुनीता सिंह उपस्थित थे। जिसमें आगामी आंदोलन की रूपरेखा को लेकर संघ के पदाधिकारियों के बीच चर्चा हुई। इस अवसर पर संघ की अध्यक्ष मंजू मेश्राम ने अपने परियोजना के 11 सेक्टर में संयोजक प्रभारी की नियुक्ति की है।

चिंतामणि, नीलू हूमने, अंजना बोरकर, वर्षा मेश्राम, रंजना वर्मा, नीतू महंत,सरिता साहू, संध्या कश्यप प्रीति, शंकर, मंजू दुबे, वंदना वर्मा, सुचारिता नंदा, गौरी सीता राव मराठा, अनुसया तिवारी, रजनी राठौर, सुषमा वाजपेई, प्रिंसी गढ़वाल, शारदा साहू, चंदा और साजिदा बेगम को सेक्टर संयोजक की जिम्मेदारी सौंपते हुए नियुक्ति पत्र जारी किया गया है। संघ के संयोजक देवेंद्र पटेल, भारती मिश्रा, सुनीता सिंह नए सेक्टर संयोजक से संघ को मजबूत करने के लिए अपील की है तथा साथ ही साथ उनकी मांगों को लेकर रायशुमारी की है।

बताया गया कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अपने चुनावी घोषणा पत्र के अनुरूप कोई वादा पूरा नहीं किया गया। राजधानी में होने वाली संघ की धरना आंदोलन की प्रांतीय संयोजक देवेन पटेल की मौजूदगी में होगी। बिलासपुर जिले से सभी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सहायिकाओं को बड़ी संख्या में शामिल होने अभी से तैयारी चल रही है। राज्य सरकार ने विधानसभा चुनाव के पहले आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की मांगों को पूरा करने का भरोसा दिलाया गया था जिसमें अब तक पूरा नहीं किया गया है।

आंदोलन को लेकर नीता हुमने,गीतांजलि पांडे, निर्मला शर्मा,आशा किरण,विमला मिश्रा,सुनीता साहू,उर्मिला कुशवाहा, अंजनी वैष्णव,कामिनी सिंदरी,लक्षण बंजारे,रजनी मेश्राम,सरिता कश्यप,अमिता खान,सुमन बहाने ललिता मेश्राम,इफात खान,मयूरी बांधी,उर्मिला ठाकुर,गौरीगंज, संतोष यादव,हिना कौसर खान,शबाना बेगम,इंद्रानी साहू,सुजाता जेबा अली आंदोलन की तैयाारी में जुटे हुए हैं।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local