बिलासपुर। छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट ने रजिस्ट्रार जनरल ने अधिसूचना जारी कर सोमवार से नए रोस्टर के आधार पर सुनवाई का प्रविधान कर दिया है। रोस्टर के अनुसार तीन डिवीजन बेंच और 14 सिंगल बेंच में प्रकरणों की सुनवाई होगी। हाई कोर्ट को दो नए जज मिल गए हैं। बार कोटे से जस्टिस राकेश मोहन पांडेय व बेंच कोटे से जस्टिस राधाकिशन अग्रवाल ने कामकाज प्रारंभ कर दिया है। जस्टिस राधाकिशन अग्रवाल पहले डिवीजन बेंच में सुनवाई करेंगे। दूसरे डिवीजन बेंच में जस्टिस गौतम भादुड़ी के साथ प्रकरणों की सुनवाई करेंगे। ठसके बाद सिंगल बेंच में मामलों की सुनवाई के लिए बैठेंगे। जस्टिस राकेश पांडेय सिंगल बेंच में प्रकरणों की सुनवाई करेंगे।

पहला डिवीजन बेंच ने चीफ जस्टिस एके गोस्वामी व जस्टिस पीपी साहू का होगा। इसमें सभी रिट याचिका जिसकी सुनवाई डिवीजन बेंच में होती है,रिट अपील,जनहित याचिका,रिट याचिका,बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका के अलावा टैक्स से संबंधित रिट अपील की सुनवाई होगी। जस्टिस गौतम भादुड़ी व जस्टिस राधाकिशन अग्रवाल के डिवीजन बेंच में डिवीजन बेंच से संबंधित सिविल मामले,कमर्शियल मामले,कंपनी अपील व रेंट कंट्रोल से संबंधित याचिकाओं की सुनवाई होगी। जस्टिस संजय के अग्रवाल व जस्टिस संजय अग्रवाल के डिवीजन बेंच में डिवीजन बेंच से संबंधित आपराधिक प्रकरणों की सुनवाई होगी।

जारी रोस्टर के अनुसार 14 सिंगल बेंच में पहली बेंच चीफ जस्टिस गोस्वामी की होगी। इसमें आब्र्रिट्रेशन एक्ट से संबंधित प्रकरणों की सुनवाई होगी। जस्टिस गौतम भादुड़ी डिवीजन बेंच के प्रकरणों के बाद मामलोे?ं की सुनवाई होगी। जस्टिस संजय के अग्रवाल के सिंगल बेंच में ट्रांसफर याचिका सिविल व ट्रांसफर याचिका क्रिमिनल की सुनवाई होगी। जस्टिस पी सैम कोशी के सिंगल बेंच में द्वितीय व प्रथम अपील के अलावा मिसलेनियस अपील से संबंधित प्रकरणों की सुनवाई होगी। जस्टिस संजय अग्रवाल डिवीजन बेंच के बाद सिंगल बेंच में रिफर किए जाने वाले प्रकरणों की सुनवाई करेंगे। जस्टिस अरविंद सिंह चंदेल रिट अपील और रिट याचिकाओं की सुनवाई करेंगे।

जस्टिस पीपी साहू वर्ष 2011 से 2015 के बीच क्रिमिनल रिवीजन से संबंधित प्रकरणों की सुनवाई करेंगे। जस्टिस रजनी दुबे के सिंगल बंेच में सीआरपीसी की धारा 439 के तहत दायर होने वाली जमानत आवेदन व आपराधिक प्रकरणों की अपील से संबंधित याचिकाओं की सुनवाई होगी। जस्टिस नरेंद्र कुमार व्यास रिट याचिकाओं की सुनवाई करेंगे। जस्टिस नरेश कुमार चंद्रवंशी के सिंगल बेंच में क्रिमिनल रिवीजन,रिट याचिका व सीआरपीसी की धारा 482 के तहत दायर होने वाली याचिकाओं की सुनवाई होगी।

जस्टिस दीपक कुमार तिवारी के सिंगल बंेेच में सीआरपीसी की धारा 438 के तहत जमानत आवेदन व वर्ष 2005 के क्रिमिनल अपील से संबंधित प्रकरणों की सुनवाई होगी। जस्टिस सचिन सिंह राजपूत के सिंगल बेंच में सीआरपीसी की धारा 439 के तहत दायर जमानत आवेदन,अपील व वर्ष 2006 के क्रिमिनल अपील से संबंधित याचिकाओं की सुनवाई होगी।

नए जज सिंगल बेंच में करेंगे सुनवाई

जस्टिस राकेश मोहन पांडेय के सिंगल बेंच में रिट याचिका व वर्ष 2010 के क्रिमिनल रिवीजन से संबंधित याचिकाओं की सुनवाई होगी। जस्टिस राधाकिशन अग्रवाल के सिंगल बेंच में मिसलेनियस अपील से संबंधित प्रकरणों की सुनवाई होगी। छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में वर्तमान में जजों की संख्या एक बार फिर 12 से बढ़कर 14 हो गई है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close