बिलासपुर। Bilaspur News:परीक्षा देने के बाद चार साल बाद भी कोल कर्मी अधिकारी नहीं बन सके। प्रबंधन ने अब इन कर्मियों को पुन: अवसर देने का निर्णय लिया है। इस बार कंप्यूटर आधारित परीक्षा होगी। सभी कंपनियों से कर्मियों की सूची कोल इंडिया प्रबंधन ने मांगी है। इसके बाद आगे निर्णय लिया जाएगा।

कोल कर्मियों को अधिकारी बनाने वर्ष 2016 में प्रबंधन ने परीक्षा ली थी, पर विवादों की वजह से प्रबंधन आगे निर्णय नही ले सका। कुछ अभ्यर्थियों ने हाइकोर्ट में मामला दायर कर दिया। इसके बाद प्रबंधन ने लिखित परीक्षा रद्द कर दी थी और पुन: परीक्षा लेने का आश्वासन दिया था। कतिपय कारणों से अब तक इस मामले कोई निर्णय नहीं हो सका था।

बताया जा रहा है कि प्रबंधन ने अब दिसंबर माह में इन्ही कर्मियों की परीक्षा लेने का निर्णय लिया है। कोल इंडिया ने ऐसे कर्मियों की सूची उपलब्ध कराने कहा है, ताकि नियमानुसार कार्रवाई की जा सके। यहां यह बताना लाजिमी होगा कि इस परीक्षा में उन्हीं अभ्यर्थियों को अवसर दिया जाएगा, जिन्होंने 2016 में लिखित परीक्षा दी थी। कंपनी ने इएंडएम, प्रशासन, कार्मिक, उत्खनन, सचिवालय, सिस्टम, सिविल, इएंडटी, सेल्स एंड मार्केटिंग समेत 13 विभागों की परीक्षा आयोजित की थी। इसमें 1400 पदों के लिए आवेदन लिए गए और कोलकोता में अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी।

Posted By: sandeep.yadav

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस