Commissioner Inspection Bilaspur News: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। संभागायुक्त डा. संजय अलंग ने कलेक्टर सौरभ कुमार के साथ बिल्हा राजस्व अनुविभागीय अधिकारी सहित तहसील कार्यालय बोदरी एवं बिल्हा का निरीक्षण किया। उन्होंने इन कार्यालयों की विभिन्न् शाखाओं के कामकाज, संधारित पंजी एवं इनके रखरखाव का सूक्ष्मता से अवलोकन किया। बिल्हा तहसील के कानूनगो द्वारा कार्यालयीन रिकार्ड अपडेट नहीं रखे जाने पर शोकाज नोटिस जारी किए। उन्होंने बिल्हा तहसील के रहंगी, सकरी के बच्चनबाई उमावि एवं बिलासपुर के सेफर स्कूल का दौरा कर मतदाता सूची अपडेशन एवं आधार सीडिंग की प्रगति की जानकारी ली। डा. अलंग ने बिल्हा में नवनिर्मित कृष्णकुंज में पीपल और कलेक्टर ने बरगद के पौधे लगाए। डा. अलंग ने बिल्हा तहसील कार्यालय में अधिवक्ताओं और विभिन्न् कामों से आए ग्रामीणों और किसानों से भी मुलाकात कर उनकी समस्याएं सुनी। उन्होंने आरबीसी 6-4 के तहत बिल्हा तहसील के चार हितग्राहियों को 16 लाख रुपये की आर्थिक सहायता के चेक भी वितरित किए।

गौरतलब है कि कमिश्नर डा. अलंग भारत निर्वाचन आयोग द्वारा रोल आब्जर्वर नियुक्त किए गए हैं। उन्होंने बिलासपुर के सेफर स्कूल, तखतपुर के सकरी बच्चनबाई उमावि और बिल्हा विधानसभा क्षेत्र के रहंगी स्कूल मतदाता सूची के संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्य का जायजा लिया। उन्होंने इस संबंध में अभिहित अधिकारी एवं बीएलओ से चर्चा कर प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने हिदायत दी कि पुनरीक्षण कार्य का गांवों में कोटवार एवं जनप्रतिनिधियों के माध्यम से अच्छी तरह से प्रचार-प्रसार कराएं। कोई भी पात्र मतदाता सूची में नाम जोड़वाने से वंचित नहीं होने चाहिए। उन्होंने मतदाता सूची में आधार सीडिंग करवाने के लिए भी मतदाताओं को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए। मालूम हो कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार फिलहाल मतदाता सूची में नाम जोड़ने, काटने अथवा संशोधन करने के काम चल रहें हैं। यह अभियान 8 दिसंबर तक चलेगा। जिला निर्वाचन कार्यालय को अब तक की स्थिति में 10,836 नाम जोड़ने, काटने एवं संशोधन के लिए आवेदन मिल चुके हैं।

डा. अलंग ने एसडीएम एवं तहसील कार्यालयों में राजस्व न्यायालयों के कामकाज का भी सूक्ष्मता से निरीक्षण किया। उन्होंने न्यायालय, डब्ल्यूबीएन, नायब नाजिर, कानूनगो, डेटा सेंटर आदि शाखाओं में पहुंचकर संबंधित प्रभारी क्लर्क से उनके दायित्व एवं काम करने के तौर तरीकों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि राजस्व विभाग का काम बड़ा संवेदनशील एवं महत्वपूर्ण होता है। कोर्ट द्वारा निर्णय के उपरांत तुरंत रिकार्ड दुरूस्त हो जाए। उन्होंने नामांतरण, बटवारा, अर्थदंड, दाण्डिक प्रकरण, पटवारी प्रतिवेदन, डायवर्सन आदि की समीक्षा की। डा. अलंग ने रहंगी स्कूल में मध्यान्ह भोजन बनाने वाली महिला समूहों से भी मुलाकात कर बन रहे भोजन का अवलोकन किया। उन्होंने अपने समक्ष पुस्तक पढ़वाकर प्रायमरी स्कूल के बच्चों की शिक्षा गुणवत्ता का भी परीक्षण किया। इस अवसर पर डिप्टी कमिश्नर अखिलेश साहू, बिलासपुर एसडीएम श्रीकांत वर्मा, बिल्हा एसडीएम सुभाष राज, उप जिला निर्वाचन अधिकारी ललिता भगत सहित तहसीलदार, जनपद सीईओ एवं नायब तहसीलदार उपस्थित थे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close