बिलासपुर। Bilaspur News: कोरोना की पहली और दूसरी लहर के दौरान संक्रमण से जिनकी मौत हुई है उनके स्वजन के लिए राहत वाली खबर है। अनुदान राशि के लिए जमा किए गए आवेदनों पर अनुशंसा करने के लिए समिति का गठन हो गया है। कलेक्टर डा. सारांश मित्तर ने अनुदान अनुशंसा समिति का गठन किया है। समिति आवेदनों पर विचार करेगी और अनुशंसा कर प्रकरण शासन के हवाले करेगी।

आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत केंद्र सरकार ने शीर्ष अदालत के निर्देश पर कोरोना संक्रमण से जिन लोगों की मौत हुई है उनके स्वजन को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने जरूरी दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। केंद्र के निर्देश पर राज्य शासन ने प्रदेशभर के कलेक्टरोें को पत्र लिखकर आवेदन लेने को कहा था। इसी के तहत जिन लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है उनके स्वजन द्वारा अनुदान के लिए जमा किए जाने वाले आवेदनों को स्वीकार करने के लिए अधिकारियों की तैनाती की गई है। आवेदन पत्रों की जांच पड़ताल के बाद अनुदान अनुशंसा के लिए कलेक्टर ने अनुविभाग स्तर पर कमेटी बना दी है। इसी कमेटी की अनुश्ांसा के बाद आवेदनों को अनुदान राशि के लिए आगे प्रेषित किया जाएगा।

ये हैं समिति में शामिल

अनुविभाग स्तर की समिति में अनुविभागीय अधिकारी(राजस्व) अध्यक्ष एवं तहसीलदार बिलासपुर सचिव होंगे। इसके अलावा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत बिल्हा, खंड चिकित्सा अधिकारी बिल्हा, डा. श्रेया मुखर्जी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देवरीखुर्द और डा. अदिति सिंह गरेवाल एमसीएच बिल्हा को समिति का सदस्य नियुक्त किया गया है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close