बिलासपुर। आरक्षक अपनी पत्नी और दो बच्चों को छोड़कर घर से गायब हो गया है। ऐसे में महिला व बच्चों के सामने भूखे मरने की नौबत आ गई है। नईदुनिया में खबर प्रकाशित होने के बाद स्वयंसेवी संगठन के साथ ही व्यापारियों ने भी उनकी मदद के लिए हाथ बढ़ाया है।

सरकंडा क्षेत्र में रहने वाली महिला का पति आरक्षक है। बीते कुछ दिनों से उसने अपनी पत्नी और बच्चों को छोड़ दिया है और दूसरी महिला के साथ रहता है। महिला ने इस मामले शिकायत थाने में की है। लेकिन वर्दीधारी होने के कारण अब तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पति के छोड़कर जाने के बाद महिला किसी तरह अपने बच्चों को लेकर जीवन यापन कर रही है। लाकडाउन के दौरान महिला की आर्थिक स्थिति खराब हो गई। उनके घर का राशन भी खत्म हो गया है। इस स्थिति में उनके बच्चों के लिए भूखे की स्थिति है। नारी शक्ति टीम की सदस्य नीतिशा पमनानी, प्रीति सिंह, वर्षा चंद्रवंशी, प्रियंका सिंह, लता यादव और अदिती देवांगन ने महिला की मदद की। नईदुनिया ने मंगलवार इस संबंध में खबर प्रकाशित की थी। इसके बाद व्यापार विहार मर्चेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष पवन वाधवानी ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया है। उन्होंने नारी शक्ति टीम के माध्यम से महिला व उनके बच्चों को राशन मुहैया कराया है। गौरतलब है कि महिला के पति के खिलाफ महिला थाने में प्रताड़ना का मामला दर्ज है, लेकिन अभी तक उसके खिलाफ किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं हो सकी है। बताया जा रहा है कि आरोपति आरक्षक बिलासपुर से ट्रांसफर कराकर दूसरे जिले में अपनी पदस्थापना करा ली है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags