बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। डिवीजन बेंच के आदेश का पालन न किए जाने से नाराज हाई कोर्ट ने छत्तीसगढ़ राज्य ग्राीमण बैंक के चेयरमैन व ग्रामीण बैंक रायगढ़ के क्षेत्रीय प्रबंधक के खिलाफ अवमानना का मामला चलाने का आदेश जारी किया है।

याचिकाकर्ता क्षितिज कुमार मिंज ने अधिवक्ता केएन नंदे के जरिए छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में अवमानना याचिका दायर कर छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण बैंक के चेयरमैन आइके गोहिल व रायगढ़ ग्रामीण बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक विष्णु अग्रवाल पर हाई कोर्ट के आदेश की अवहेलना का आरोप लगाया है। याचिकाकर्ता ने कहा है कि अनुकंपा नियुक्ति देने के आदेश का आज तक पालन नहीं किया गया है। दरअसल याचिकाकर्ता की मां प्रफुल्लम मिंज ग्रामीण बैंक रायगढ़ में पदस्थ थीं। वर्ष 2005 में उनकी मृत्यु हो गई।

मृत्यु के बाद बेटा क्षितिज ने क्षेत्रीय प्रबंधक के समक्ष आवेदन पेश करते हुए अनुकंपा नियुक्ति देने की मांग की। विभाग द्वारा किसी प्रकार कार्रवाई न करने पर अपने अधिवक्ता के जरिए छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में याचिका दायर कर अनुकंपा नियुक्ति की गुहार लगाई। कोर्ट ने ग्रामीण बैंक रायगढ़ के क्षेत्रीय अधिकारी के अलावा चेयरमैन को नोटिस जारी कर जवाब पेश करने के निर्देश दिए थे।

बैंक प्रबंधन ने अपने जवाब में कहा कि अनुकंपा नियुक्ति का प्रविधान नहीं है। बैंक प्रबंधन के जवाब के बाद कोर्ट ने याचिकाकर्ता को एक्सग्राशिया राशि का भुगतान करने के निर्देश दिए। सिंगल बेंच के फैसले को चुनौती देते हुए बैंक प्रबंधन ने डिवीजन बेंच में अपील पेश कर दी। मामले की सुनवाई के दौरान डिवीजन बेंच ने कहा कि जिस वक्त याचिकाकर्ता के मां की मृत्यु हुई थी, ग्रामीण बैंक में अनुकंपा नियुक्ति का प्रविधान था।

लिहाजा याचिकाकर्ता को नियमानुसार अनुकंपा नियुक्ति दी जाए। डिवीजन बेंच के निर्देश के बाद भी बैंक प्रबंधन ने याचिकाकर्ता को अनुकंपा नियुक्ति नहीं दी। तय समय सीमा के बाद भी जब बैंक की ओर से प्रक्रिया पूरी नहीं की गई, तब याचिकाकर्ता ने अधिवक्ता नंदे के जरिए अवमानना याचिका दायर की।

बैंक के जवाब पर कोर्ट ने जताई नाराजगी

मामले की सुनवाई के दौरान बैंक प्रबंधन ने कहा कि याचिकाकर्ता को दस्तावेज के साथ मुख्यालय बुलाया जा रहा है पर वे नहीं आ रहे हैं। इस पर कोर्ट ने कहा कि जब क्षेत्रीय कार्यालय रायगढ़ में सभी दस्तावेज की पड़ताल की जा चुकी है तब दोबारा क्यों बुलाया जा रहा है। मामले की सुनवाई के बाद डिवीजन बेंच ने न्यायालयीन आदेश की अवहेलना करने के आरोप में दोनों अधिकारियों के खिलाफ अवमानना मामला चलाने का आदेश जारी कर दिया है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close