बिलासपुर। ओखा-हावड़ा एक्सप्रेस के जनरल कोच में सीट को लेकर जमकर विवाद हो गया। पश्चिम बंगाल के दो यात्रियों ने पति-पत्नी के साथ धक्की-मुक्की की। इस पर पति-पत्नी ने सूचना आरपीएफ के कंट्रोल को दी। बिलासपुर पहुंचते ही स्टाफ पहुंचा और विवाद करने वाले पश्चिम बंगाल के दोनों यात्रियों को गिरफ्तार कर लिया। दोनों के खिलाफ रेलवे अधिनियम की धारा 145 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

घटना सोमवार की है। सत्येंद्र कुमार प्रभाकर पत्नी के साथ बड़ोदरा से बिलासपुर तक सफर कर रहे थे। राजनांदगांव पहुंचने के बाद ट्रेन के इसी जनरल कोच में पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद निवासी मोहम्मद हसन्न्ुजामन व मूलजेहर शेख चढ़े। ट्रेन में चढ़ने के कुछ देर बाद ही दोनों प्रार्थी सत्येंद्र कुमार व उनकी पत्नी के साथ सीट मंें बैठने को लेकर विवाद करने लगे। जबकि वह दोनों एक ही सीट में बड़ोदरा से सफर कर रहे थे। उन्होंने समझाया और बेवजह विवाद न करने की बात कही। पर दोनों यात्री समझने के बजाय सत्येंद्र कुमार के साथ विवाद करने लगे।

इस पर सत्येंद्र कुमार ने इसकी जानकारी आरपीएफ के कंट्रोल को दी। शिकायत में उन्होंने विवाद के साथ पश्चिम बंगाल के दोनों यात्रियों पर धक्का-मुक्की करने का भी आरोप लगाया है। सूचना मिलते ही सबसे यह देखा गया कि ट्रेन कहा है। ट्रेन बिलासपुर पहुंचने वाली थी। इस पर बिलासपुर आरपीएफ पोस्ट को सूचना दी गई। इस उप निरीक्षक कुलदीप सिंह संबंधित कोच में गए और प्रार्थी से घटना के संबंध में जानकारी ली।

इसके बाद उन्होंने अन्य यात्रियों से भी बात की। यात्रियों ने भी पश्चिम बंगाल के दोनों यात्रियों पर विवाद करने का आरोप लगाया। लिहाजा दोनों यात्रियों को बिलासपुर रेलवे स्टेशन में ही उतारा दिया गया। इसके बाद आरपीएफ पोस्ट लाया गया और आरोपितों के खिलाफ रेलवे अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया। मंगलवार को दोनों आरोपितों को रेलवे न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close