बिलासपुर। शहर व जिलेवासियों की लापरवाही का नतीजा अब सामने आने लगा है। कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। रविवार को छह मरीज मिलने से लोग एक फिर दहशत में आ गए हैं। धीरे-धीरे शहर के लगभग हर इलाके में कोरोना के मरीज हो गए हैं। ऐसे में संक्रमण फैलने की आशंका और भी बढ़ गई है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने साफ कर दिया है कि अब यदि ध्यान नहीं दिया गया तो जल्द ही स्थिति बिगड़ जाएगी। इसे नियंत्रित करने के लिए नए सिरे से काम करना होगा। अब भी जिले में कई कोरोना संक्रमित हैं, जिनकी पहचान नहीं हो पाई है। ऐसे लोग दूसरों को संक्रमित कर रहे हैं। इससे बचने के लिए जिलेवासियों के लिए कोरोना गाइडलाइन का पालन करना जरूरी हो गया।

यदि अब भी जिलेवासी लापरवाही करते हैं तो स्थिति और भी बिगड़ जाएगी। रविवार की सूची में शहरी क्षेत्र से पांच मरीज मिलने की पुष्टि की गई है। अब लगभग हर मोहल्ले में कोरोना के मरीज हो गए है। गाइडलाइन का पालन नहीं किया गया तो इसके गंभीर परिणाम सामने आएंगे।

इस तरह मिल रहे मरीज

19 जून - 07

20 जून - 02

21 जून - 08

22 जून - 08

23 जून - 07

24 जून - 08

25 जून - 11

करें गाइडलाइन का पालन

- मास्क का उपयोग करें।

- हर आंधे घंटे में हाथ को साबुन से धोएं या सैनिटाइज करें।

- फिजिकल डिस्टेंस का पालन करें।

- भीड़ वाली जगह पर जाने से बचें।

- लक्षण आने पर तत्काल चिकित्सक से परामर्श लें और कोरोना टेस्ट कराएं।

रेलवे स्टेशन में कोरोना जांच की आवश्यकता

जैसे ही मामले बढ़ते है वैसे ही बाहर प्रदेश से आने वालों को जांच के दायरे में लिया जाता है। लेकिन इस बार ऐसा नहीं किया जा रहा है। अब तक रेलवे स्टेशन में कोरोना जांच सेंटर नहीं खोला गया है। ऐसे में दूसरे प्रदेश से आने वाले लोग जांच के दायरे से बाहर चल रहे है। ऐसे में रेलवे स्टेशन में जांच केंद्र खोलने की आवश्यकता महसूस की जा रही है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग वहां जांच केंद्र खोलने का निर्णय लेकर शांत बैठी हुई है। इसकी वजह से मामले बढ़ सकते हैं।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close