बिलासपुर। Coronavirus in Chhattisgarh सिम्स के कोरोना ओपीडी में गुस्र्वार को मुंबई से लौटे शहर के युवक में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए। इस पर उसे आइसुलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया गया है। वहीं, ब्राजील और सिंगापुर से पहुंचने दो-दो लोगों का ब्लड सैंपल लिया गया है। उन्हें घर से बाहर नहीं निकलने के निर्देश देते हुए निगरानी में रखा गया है। अब तक जिले में एक भी कोरोना से ग्रसित मरीज नहीं मिला है। लेकिन कई संदिग्ध मरीजों का पता चला है। बुधवार की शाम सिम्स के कोरोना ओपीडी में शहर में रहने वाला 25 वर्षीय युवक पहुंचा। उसने सर्दी-खांसी होने की जानकारी दी। साथ ही बताया कि धीरे-धीरे उसकी हालत खराब हो रही है।

तब वरिष्ठ मेडीसिन रोग विशेषज्ञ डॉ. पंकज टेम्भुर्णीकर ने युवक की जांच की। जांच के दौरान युवक में कोरोना वायरस के लक्षण मिले। पूछताछ में युवक ने बताया कि वह पिछले दिनों इंटरव्यू देने के लिए मुंबई गया था। जहां से आने के बाद सर्दी-बुखार हो गया है।

इस जानकारी के बाद तत्काल उसे आइसुलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। साथ ही ब्लड सैंपल लिया गया है, जिसे रायपुर एम्स भेजा जाएगा। इसके अलावा ब्राजील और सिंगापुर से लौटे दो-दो लोगों ने भी अपनी जांच कराई है। उनका सैंपल लेकर घर में रहने के निर्देश दिए गए हैं। इससे पहले मंगलवार को भी सिम्स में साउदी अरब से आने वाले वाली महिला को निगरानी में रखा गया है। इस तरह सिम्स में अब तक कोरोना वायरस के छह संभावित मरीज मिल चुके हैं।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket