बिलासपुर। डेंगू व मलेरिया से बचाव व रोकथाम के लिए नगर निगम एक बार फिर अभियान चलाएगा। जांच में यह बात सामने आई है कि अब भी शहरी क्षेत्र के कई हिस्सों में डेंगू के लार्वा सक्रिय है। ऐसे में निगम द्वारा घर-घर जाकर लोगों को जागरूक करने के लिए घर-घर दस्तक दिया जाएगा। साथ ही संवदेनशील क्षेत्रों में एंटी लार्वा का छिड़काव किया जाएगा।

वैसे अभी डेंगू के मामले बिलासपुर में पूरी तरह से नियंत्रण में चल रहा है। बीते तीन महीने के दौरान जिले में डेंगू के 19 मरीज मिले हंै। सभी स्वस्थ हो चुके हैं। लेकिन, नए मरीज मिलने की आशंका को दरकिनार नहीं किया जा सकता है। वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अपने निरीक्षण में यह पाया है कि शहर के कई नाले, नालियों के साथ अस्थायी डबरों में डेंगू के एंटी लार्वा देखे गए हंै।

ऐसे में आशंका है कि एडीज मच्छर अभी भी सक्रिय हंै। ऐसे में एंटी लार्वा का छिड़काव जरूरी हो गया है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने निगम अमले को एंटी लार्वा छिड़काव के लिए आवश्यक दवाएं व संसाधन उपलब्ध कराया है। साथ ही कहा कि घर-घर सर्वे किया जाए। अब निगम का स्वास्थ्य अमला लोगों के घरों में जाकर डेंगू के मरीज खोजने के साथ लोगों को जागरूक करने का काम करेगा। साथ ही दवाओं का छिड़काव करते हुए डेंगू के लार्वा को खत्म करने का काम करेगा।

मच्छरों को पनपने न दें

एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से फैलने वाली इस संक्रामक बीमारी से बचने के लिए घर या घर के आसपास किसी भी वस्तु जैसे कूलर, फ्लावर पाट, बर्तन या टंकी में पानी को बहुत दिनों तक जमा होने न दें। पानी के जमा होने से उसमें डेंगू मच्छर के पनपने की आशंका अधिक रहती है। इसके अलावा साफ सफाई रखना और डेंगू के लक्षण महसूस करने पर तत्काल डाक्टर से संपर्क करें।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local