बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। गौरेला क्षेत्र में बोलेरो लूटने के लिए ड्राइवर की हत्या कर रेलवे ट्रेक में फेंकने का मामला सामने आया है। आरोपित ने बोलेरो को मध्यप्रदेश के उमरिया में बेच दिया। घटना की जांच के बाद पुलिस पुलिस ने महिला समेत पांच आरोपित को गिरफ्तार किया है। वहीं, मामले में फरार आरोपित की तलाश की जा रही है।

गौरेला क्षेत्र के ग्राम गिरिवर पनिकाटोला में रहने वाले नंदू काशीपुरी(40) ड्राइवर थे। छह सितंबर को वे मालिक अशफाक के घर से बोलेरो लेकर रेलवे स्टेशन के टेक्सी स्टैंड गए। इसके बाद उनका पता नहीं चल रहा था। बोलेरो के मालिक ने इसकी शिकायत गौरेला थाने में की। इस पर पुलिस गुम इंसान दर्ज कर मामले की जांच कर रही थी। इसी बीच पता चला मध्यप्रदेश के बिजुरी के रेलवे ट्रेक में अज्ञात युवक की लाश मिली है। पुलिस ने नंदू के स्वजन को इसकी जानकारी देकर श्ाव की पहचान कराई। शव की पहचान के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी। प्राथमिक जांच में पता चला कि ड्राइवर गाड़ी लेकर पेंड्रा क्षेत्र के ग्राम कुदरी गया था। साइबर सेल की जांच में पता चला कि मध्यप्रदेश के अनुपपुर जिला अंतर्गत महाराजपुर में रहने वाले रमाशंकर सोनी(50) ने नंदू को फोन कर बुलाया था। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। इसमें वह गोलमोल जवाब दे रहा था। कड़ाई करने पर उसने अपने साथियों रोहित यादव(27), उसकी पत्नी सावित्री यादव(26) निवासी मनेंद्रगढ़, लालू चौधरी(32) निवासी सुरकुटी थाना हनुमान ताल जिला जबलपुर मध्यप्रदेश के साथ मिलकर हत्या की बात स्वीकार कर ली। आरोपित ने बताया कि उन्होंने गाड़ी लूटने के लिए नंदू को बुकिंग के लिए बुलाया। इसके बाद उसे लेकर चिरमिरी की ओर गए। रास्ते में उसकी हत्या कर शव बिजुरी के रेलवे ट्रेक में फेंक दिया। वाहन को लेकर वे उमरिया गए। वहां पर उमाकंात उपाध्याय निवासी ग्राम करकेली थाना नौरोजाबाद उमरिया मध्यप्रदेश के पास गाड़ी को बेच दिया। पुलिस ने महिला समेत पांच आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close