बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। पोरबंदर-शालीमार एक्सप्रेस के जनरल कोच में सफर कर रहे 17 वर्षीय एक यात्री की मौत हो गई। वह बीमार था और न पहले से कोई समस्या थी। यह घटना एकाएक हुई। इसलिए प्रथम दृष्टया लू लगने की आशंका जताई जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद वजह स्पष्ट होगी। इधर जीआरपी ने स्वजनों को सूचना दे दी है। वह शुक्रवार की रात तक बिलासपुर पहुंचेंगे। शनिवार को मृतक का पोस्टमार्टम होगा।

यह ट्रेन शाम 5:30 बजे बिलासपुर पहुंचती है। ट्रेन तय समय पर चल रही थी। इसी बीच डी-4 कोच में यात्रा कर रहे एक यात्री के अचेत होने की सूचना मिली। इस पर स्टेशन मास्टर व रेलवे अस्पताल को जानकारी दी गई। ट्रेन पहुंचने के बाद अचेत यात्री को प्लेटफार्म एक में उतारा गया।

यहां रेलवे डाक्टर ने जांच की और मृत घोषित कर दिया। इस पर स्टेशन मास्टर ने जीआरपी को मेमो भेजा। पूछताछ में यह जानकारी मिली की मृतक अशफाख शेख (17) भैराडांगा आमटाला जिला मुर्शिदाबाद का रहने वाला है। साथी हबीबउल शेख के साथ वह राजकोट से घर लौट रहे थे। मृतक के शरीर को शवगृह में रखा गया है। साथ ही स्वजनों को जानकारी दे दी गई है।

कमाने-खाने गए थे राजकोट

जीआरपी के अनुसार मृतक व साथी दोनों कमाने-खाने के लिए राजकोट गए थे। वहां मजदूरी आदि का काम करते हैं। स्वजनों से मिलने के लिए वापस जा रहे थे। इसी बीच अचानक यात्री अचेत हो गया।

हावड़ा-मुंबई मेल से गिरकर यात्री घायल

हावड़ा-मुंबई मेल ट्रेन में सफर के दौरान एक यात्री गिरकर घायल हो गया। सूचना मिलते ही आरपीएफ व स्टेशन मास्टर ने घायल यात्री को एंबुलेंस से अकलतरा सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया है। घटना अकलतरा-जयरामनगर सेक्शन के किमी 700/ 13 की है। ट्रेन रफ्तार में गंतव्य की ओर बढ़ रही थी। उसी समय यह घटना हुई। इसकी जानकारी सबसे पहले स्टेशन मास्टर को मिली।

उन्होंने जयराम नगर स्टेशन में तैनात आरपीएफ के बल सदस्य को सूचना दी गई कि एक यात्री ट्रेन से गिर गया है। उसे गंभीर चोट आई। इसके बाद आरपीएफ जवान पहुंचा। स्टेशन मास्टर व अन्य कर्मचारियों की मदद से यात्री को तत्काल एंबुलेंस से अकलतरा सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। यात्री की जेब से टिकट नहीं मिला है। केवल एक आधार कार्ड है, जिसमें उसका नाम पारस राम सिंह (31) निवासी तुरबुल कामदारा गुमला झारखंड लिखा हुआ है।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close