बिलासपुर। (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

तेल माफिया ने ट्रांसपोर्टर के ड्राइवर से मिलीभगत कर टैंकर से डीजल निकाल लिया और उसमें मिट्टीतेल की मिलावट कर दी। इसका खुलासा तब हुआ जब टैंकर कुसमुंडा स्थित एसईसीएल के प्लांट पहुंचा और वहां डीजल की जांच की गई। ट्रांसपोर्टर की शिकायत पर आरोपित ड्राइवर और तेल माफिया के खिलाफ हिर्री पुलिस ने अपराध कायम कर लिया है।

रायपुर के टाटीबंध निवासी कुरैशी खलील पिता जफर (38) अहमद जी भाई एंड संस का संचालक है। वे ट्रांसपोर्टिंग का काम करता है। उनके पास 12 टैंकर हैं। टैंकरों मंदिर हसौद स्थित हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड के डिपो से पूरे प्रदेश में डीजल की सप्लाई की जाती है। बीते 15 अक्टूबर को एक टैंकर क्रमांक सीजी 04 एमएच 3321 में 24 हजार लीटर डीजल लेकर कुसमुंडा स्थित एसईसीएल खदान के लिए निकला था। गाड़ी ओम नगर निवासी उमेश यादव चला रहा था। टैंकर खदान में तेल सप्लाई करके वापस 17 जनवरी को आ गया। बाद में खदान में एचपीसीएल कंपनी ने तेल की जांच की तो पता चला कि उसमें मिट्टीतेल है। बाद में ट्रांसपोर्टर ने इसकी जांच कराई तो पता चला कि ड्राइवर ने हिर्री के अमसेना के पेंड्रीडीह बाइपास के पास स्थित जसपाल बाघ के गोदाम में जाकर मिट्टीतेल की मिलावट की थी। इसकी शिकायत पुलिस के पास की गई। पुलिस ने आरोपित ड्राइवर और तेल माफिया के खिलाफ धारा 407, 34 के तहत अपराध कायम कर लिया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket