बिलासपुर। डाक्टर्स डे एक जुलाई के अवसर पर आइएमए (इंडियन मेडिकल एशोसिएशन) रायपुर की ओर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निवास पर चिकित्सा के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवा देने वाले प्रदेश के डाक्टरों को सम्मानित किया जाएगा। इसमें बिलासपुर से सिम्स की ईएनटी स्पेशलिस्ट डाक्टर आरती पांडेय का चयन किया गया है।

डा. आरती पांडेय को कोरोना महामारी शुरू होते ही कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज करने की जिम्मेदारी दी गई थी। इस दौरान डाक्टर आरती ने कोविड 19 की नोडल अधिकारी बनकर सिम्स में कोरोना ओपीडी और वार्ड का संचालन किया। जहां पर हजारों कोरोना मरीजों को भर्ती किया गया। मरीजों को सही इलाज मिला और हजारों मरीज ठीक होकर वापस घर गए। यह सिलसिला अभी भी चल रहा है। क्योंकि अभी भी सिम्स में कोविड ओपीडी और वार्ड का संचालन किया जा रहा है।

खास बात यह भी रही कि शुरू में सिम्स में कोविड मरीजों के लिए 75 बेड की सुविधा रही, लेकिन मरीजों की संख्या को देखते हुए डाक्टर आरती ने बेड की संख्या बढ़ा कर 140 किया, और एक साथ 140 मरीजों के उपचार का काम किया। वहीं कोरोना महामारी में उनकी उत्कृष्ट चिकित्सा सेवा को देखते हुए डाक्टर्स डे पर उनका सम्मान करने का निर्णय लिया गया है।

शनिवार की शाम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने निवास में आयोजित समारोह में डाक्टर आरती का सम्मान करेंगे। इस दौरान राज्य भर के ऐसे डाक्टर भी सम्मानित होंगे, जिन्होंने चिकित्सा क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवा की है।

स्वास्थ्य विभाग भी करेगा अपने डाक्टरों का सम्मान

जिला स्तर पर भी डाक्टर्स डे के अवसर पर स्वास्थ्य विभाग सम्मान समारोह का आयोजन करेगा। सीएमएचओ डाक्टर प्रमोद महाजन ने बताया कि कोरोना काल में विभाग के चिकित्सकों ने मरीजों की सेवा कर उन्हें ठीक किया है। खासतौर से संभागीय कोविड अस्पताल में लगी डाक्टरों की टीम ने कोविड के खतरों के बीच अपनी जान की परवाह किए बिने ही मरीजों को ठीक करने का बीड़ा उठाया। उनका यह कार्य सम्मान के पात्र है। ऐसे में उत्कृष्ट सेवा करने वाले डाक्टरों को सम्मानित किया जाएगा।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close