बिलासपुर। प्रदेश में हो रही झमाझम बरिश, ओलावृष्टि के बाद खराब मौसम ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। बुधवार की सुबह थोक मंडी तिफरा में हरी साग सब्जियों का दाम आधा हो गया। चिल्हर बाजार में एक किलो टमाटर का भाव 50 से 35 रुपये आ गया। धनिया,गोभी,बैगन से लेकर मूली का रेट अचानक नीचे गिरा

बारिश के कारण अब हरी साग सब्जियों की फसल खराब होने के डर से किसान मंडी में आज औने पौने भाव सब्जियों को बेचकर चले गए। है। 25 किलो टमाटर का भाव मंगलवार को जहां 1150 रुपये था आज 800 रुपये उतर गया। गोभी 30 से 15 रुपये किलो बिका। बैगन,लाल भाजी, पालक और मेथी समेत बरबट्टी, बींस, भिंडी, मिर्च, अदरक, प्याज, करेला, परवल, धनिया व मटर का भाव भी आधा हो गया। प्याज, मेथी व लाल भाजी का भाव भी उतरा। झमाझम बारिश के बाद फसलों में कीट प्रकोप बढ़ने का खतरा है। बारिश के कारण टमाटर में काला दाग और सड़ने का डर बना रहता है।

गेहूं को फायदा,चना,धनिया व टमाटर को नुकसान

मौसम में आए अचानक बदलाव से जिले के कुछ क्षेत्रों में हुई बारिश से गेहूं की फसल को फायदा होगा जबकि बदली छाए रहने से चने की फसल पर इल्लियों का प्रकोप बढ़ने की संभावना है। वहीं धनिया व टमाटर सड़ने लगेगा। काले दाग के धब्बे नजर आने लगेंगे। इस समय गेहूं की फसल को सिंचाई की आवश्यकता है ऐसे में यह बारिश गेहूं की फसल के लिए काफी लाभदायक है। वही बदली छाए रहने से चने की फसल में इल्ली का प्रकोप बढ़ सकता है। कृषि विज्ञानियों ने खेतों में धुंआ करने व सिंचाई करने की सलाह किसानों को दी है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local