बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। सीपत थाना क्षेत्र के अलग-अलग गांवों के रहने वाले बुजुर्ग और युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। दोनों मामले में मौत की वजह स्पष्ट नहीं है। शनिवार को सीपत पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद मृतकों के शव स्वजन को सौंप दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

ग्राम पंचायत कुली के आमापारा के रहने वाला रमेश्वर यादव(65) किसान थे। वे 30 सितंबर की शाम छह बजे टहलने की बात बोलकर घर से बाहर निकले। इसके बाद लौटकर नहीं आए। स्वजन ने रात को खाजबीन शुरू की। इस दौरान मेन रोड फुलकुंवर वस्त्रकार ढाबा के पास रमेश्वर यादव का शव फांसी पर लटकते मिला। स्वजन ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस की टीम जांच करने घटना स्थल पहुंची। शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया। शनिवार की सुबह शव का पास्टमार्टम कराया गया। पूछताछ स्वजन ने पुलिस को बताया कि रमेश्वर यादव गुस्सैल स्वभाव का था। छोटी-छोटी बातों को लेकर गुस्सा करता था। हालांकि स्वजन को भी आत्महत्या करने के कारण का पता नहीं है।

युवक ने पड़ोसी के बाड़ी में लगाई फांसी

सीपत क्षेत्र के दूसरे मामले में एक युवक ने अपने पड़ोसी की बाड़ी में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बाड़ी मालिक की सूचना पर पुलिस घटना स्थल पहुंची और शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस मामले में भी आत्महत्या के कारण स्पष्ट नहीं है। पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही है। सीपत के रहने वाले करन यादव पिता(22) 30 अगस्त की दोपहर खाना खाकर घर से निकले थे। इस दौरान स्वजन काम करने खेत चले गए। शाम सात बजे गांव के ही पड़ोस में रहने वाले शनिच राम अपने बाड़ी तरफ गया। तब पेड़ में करन का शव फांसी के फंदे पर लटक रहा था। फिर शनिच राम ने पड़ोसियों और पुलिस को सूचना दी। सीपत पुलिस की टीम जांच करने मौके पर पहुंची। मृतक करन के स्वजन ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि करन की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close