बिलासपुर। केंद्र सरकार के समान 31 प्रतिशत महंगाई भत्ता एवं सातवें वेतनमान के अनुरूप पुनरीक्षण की मांग को लेकर बुधवार को फेडरेशन द्वारा कलेक्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन को दोपहर एक बजे ज्ञापन सौंपा जाएगा।

कर्मचारी-अधिकारी फेडरेशन जिला बिलासपुर के वार्षिक कैलेंडर 2022 का विमोचन मंगलवार को कलेक्टर डा. सारांश मित्तर ने मंथन सभाकक्ष में फेडरेशन के पदाधिकारियों की उपस्थिति में किया गया। फेडरेशन के संयोजक डा. बीपी सोनी एवं महासचिव जीआर चंद्रा ने बताया कि जिला फेडरेशन द्वारा वार्षिक कैलेंडर का प्रकाशन दो वर्ष से किया जा रहा है।

विमोचन के दौरान कलेक्टर ने फेडरेशन के पदाधिकारियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वर्तमान में जारी कोरोना काल में हम सभी को सुरक्षा एवं सवधानियों के साथ कार्य का निर्वहन करना होगा। इस अवसर पर फेडरेशन द्वारा जिले में परामर्शदात्री की बैठक आयोजित करने, कार्यालयों में तृतीय एवं चतुर्थ वर्गीय कर्मचारियों की 33 प्रतिशत उपस्थिति के लिए आदेश जारी करने तथा पुरानी कंपोजिट बिल्डिंग में मरम्मत एवं सुधार कार्य करने आदि के संबंध में ज्ञापन सौंपा।

हालांकि कलेक्टर डा. सारांश मित्तर ने मंगलवार देर शाम को नई गाइड लाइन जारी की। इसमें कर्मचारियों को सरकारी कार्यालयों में एक तिहाई के साथ उपस्थित होने कहा है। इसके अलावा अधिकारियों को शत प्रतिशत उपस्थित होने के निर्देश दिए गए हैं। यानी अधिकारी वर्ग अपनी पूरी क्षमता के साथ कार्यालय आएंगे और जरूरी कामकाज निपटाएंगे। विमोचन कार्यक्रम के दौरान बीपी सोनी, जीआर चंद्रा, राजेंद्र दवे, बिन्द्रा प्रसाद, किशोर शर्मा, प्रशांत मोकासे, देवेंद्र ठाकुर अजित नाविक, विजय वर्मा, अनिल सिन्हा, गोपाल चंद्रशेखर यादव और सीके महिलांगे आदि उपस्थित थे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local